गुरु-शिष्य के पवित्र रिश्ते को कलंकित करने वाले शिक्षक को भीड़ ने निर्वस्त्र घुमाया

एलुरु: गुरु-शिष्य के पवित्र रिश्ते को कलंकित करने वाला एक मामला आंध्र प्रदेश के गोदावरी ज़िले के एलुरु में देखने में आया है। यहां एक शिक्षक ने अपनी छात्रा को बंधक बनाकर दो वर्षों तक बलात्कार किया। मामला जब खुला तो आरोपी शिक्षक को पीड़िता के परिवारवालों ने पहले जमकर पीटा, फिर कपड़े उतारकर पूरे बाज़ार में घुमाया। बाद में पुलिस के हवाले कर दिया। 38 साल के रामबाबू पर अपनी ही एक नाबालिग़ छात्रा से बंधक बनाकर दो साल से बलात्कार करने का आरोप है।

शिक्षक को को पीटने और परेड कराने की घटना का वीडियो राहगीरों ने अपने मोबाइल में कैद कर लिया। इसमें दिख रहा है कि 38 साल के शख्स को बिजी सड़क पर कैसी भीड़ मारते-पीटते घुमा रही है। रामबाबू अंग्रेजी का टीचर है। उसके ऊपर आरोप है कि वह अपनी 10वीं की स्टूडेंट का पिछले दो सालों से यौन शोषण कर रहा था। मामला तब सामने आया, जब नाबालिग छात्रा गर्भवती हो गई और शिक्षक रामबाबू ने उसे गर्भपात की गोलियां खाने को दी। परिवार को छात्रा से रेप और गर्भवती होने की बात तब पता चली, जब लड़की को काफी रक्त स्राव हुआ।

उसके बाद परिवार वालों ने शिक्षक को पकड़ा और उसे पीटा। उसके कपड़े फाड़े और फिर पुलिस स्टेशन तक परेड कराते ले गये। वीडियो में दिख रहा है कि दो लोग शिक्षक का बाजू पकड़ कर उसे पुलिस स्टेशन ले जा रहे हैं। इस वीडियो में उन दोनों में एक शख्स यह कहता सुना जा रहा है कि वह एक शिक्षक है और उसने अच्छे नंबर देने का वादा कर उससे रेप किया। उसने उसे प्रेग्नेंट कर दिया। उसका इतना खून बह चुका था कि वह मरने के कगार पर थी। हमने उसे अस्पताल में भर्ती करावाया। जब हमें पता चला, हम उसे छोड़ नहीं सके। पुलिस स्टेशन में आरोपी शख्स को शर्ट और तौलिया दिया गया। उसे बैठाया गया और उससे पूछताछ हुई।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper