गुवाहाटी में ढाबे की आड़ में देह व्यापार, मैनेजर समेत 19 गिरफ्तार

गुवाहाटी। राजधानी गुवाहाटी के गोरचुक थाने से महज 200 मीटर की दूरी पर राष्ट्रीय राजमार्ग-37 के किनारे स्थित गोल्डन ढाबा में पुलिस ने मंगलवार की दोपहर को अभियान चलाते हुए देहव्यापार के एक बड़े रैकेट का खुलासा किया है। इस संबंध में कुल 19 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। थाने से महज 200 मीटर की दूरी पर लंबे समय से चल रहे इस गोरखधंधे की जानकारी पुलिस को ना हो, यह एक रहस्य का विषय बनकर उभरा है।

एसीपी प्रांजल बोरा के नेतृत्व में मंगलवार की दोपहर लगभग 2.30 बजे पुलिस की टीम ने गोल्डन ढाबा में अचानक छापा मारकर ढाबा के मैनेजर रफीक उल हक समेत ढाबा के कुल पांच लोगों को गिरफ्तार किया। साथ ही ढाबा में बने कमरे के अंदर से पुलिस ने सात लड़कियाें और सात लड़कों को रंगे हाथों गिरफ्तार किया। पुलिस ने ढाबा में सर्च अभियान चलाकर मौके से बीयर और व्हिस्की की बोतलों के साथ ही काफी मात्रा में कंडोम भी बरामद किये हैं। ढाबे का मालिक रमेन सैकिया है, जो पुलिसिया कार्रवाई से पहले ही फरार हो गया। पुलिस उसको पकड़ने के लिए संभावित स्थानों पर छापेमारी कर रही है।

गिरफ्तारी के दौरान ढाबा मैनेजर रफीक उल हक से मीडिया ने त्वरित कुछ सवाल किए, जिसके संबंध में उसने चौंकाने वाले बयान दिए। हक ने बताया कि यहां पर चलने वाले इस धंधे की जानकारी स्थानीय पुलिस को थी। बाकायदा सप्ताह में पैसा दिया जाता था। हालांकि थाने पहुंचने के बाद उसने अपना बयान बदल दिया। साथ ही उसने कहा कि यहां पर अवैध रूप से परोसी जाने वाली शराब की भनक आबकारी विभाग को थी, उसको भी मैनेज करने के लिए सप्ताह में पैसे दिए जाते थे।

ज्ञात हो कि गोरचुक थाने के प्रभारी ने हाल ही में अपना पदभार संभाला है। ढाबा के मैनेजर के अनुसार थाने के उप थाना प्रभारी समेत थाने में लंबे समय से तैनात हवलदार और कांस्टेबल भी अच्छी तरह से ढाबे में होने वाले अनैतिक कार्यों को जानते थे। रफीक उल हक के बयान से यह साफ हो गया है कि ढाबे में देहव्यापार का धंधा पुलिस की जानकारी में चल रहा था। ढाबा मैनेजर के फोन को जब्त कर लिया गया है। फोन खोलने पर पता चला कि उसमें हजारों की संख्या में आपत्तिजनक वीडियो दर्ज हैं। यह सभी वीडियो ढाबे के कमरे में शूट किए गए हैं। सूत्रों ने बताया है कि ढाबा का मैनेजर सिर्फ देहव्यापार का धंधा ही नहीं चलाता था, बल्कि यहां आने वाले लोगों की वीडियो बनाकर उन्हें ब्लैकमेल भी करता था। उसके मोबाइल फोन में सैकड़ों लड़कियों के साथ चैटिंग के भी सबूत मिले हैं।

पूछताछ में ढाबा मैनेजर ने बताया कि यहां पर घंटे के अनुसार अय्याशी करने के लिए कमरे दिए जाते थे, जिसका किराया एक घंटे के लिए एक हजार रुपए होता था। सूत्रों ने बताया है कि ढाबे में यह अनैतिक कृत्य लंबे समय से चल रहा था। स्थानीय लोगों ने दावा किया है कि गोरचुक के इलाके में राष्ट्रीय राजमार्ग के किनारे दर्जनों ढाबे हैं, जहां पर अवैध तरीके से शराब मिलती है। साथ ही अनैतिक कृत्य भी इन ढाबों में होता है लेकिन आज तक पुलिस इनको पकड़ने के लिए कभी कोई अभियान नहीं चला पाई है।

पुलिस ने इस संबंध में एक प्राथमिकी दर्ज कर गिरफ्तार सभी लोगों से पूछताछ करने में जुटी हुई है। पुलिस ने गिरफ्तार लड़के और लड़कियों की पहचान को उजागर नहीं किया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper