गेट पर नेमप्लेट हो साफ

लखनऊ: घर का मेन गेट (मुख्य द्वार) वास्तु के नजरिए से बहुत मायने रखता है। इसलिए मुख्य द्वार सबसे सटीक होना चाहिए। घर का मुख्य द्वार पूर्व और उत्तर दिशा में होना सबसे उत्तम माना जाता है। ध्यान रखें कि यह घर के अन्य दरवाजों से आकार में बड़ा होना चाहिए। मुख्य द्वार को हमेशा दो भागों में खुलने वाला ही बनवाएं।

द्वार के पास तुलसी का पौधा लगाना शुभ फलदायक होता है। द्वार के सामने किसी दीवार, पेड़ या किसी भी तरह की छाया नहीं होनी चाहिए। मेन डोर खोलते ही सामने सीढ़ी नहीं होनी चाहिए और यह हमेशा अंदर की तरफ खुलने वाला होना चाहिए। अगर किसी भवन में दो बाहरी दरवाजें हों, तो ध्यान रखें कि दोनों द्वार एक-दूसरे के सामने न हों। इससे धन जैसे आता है, वैसे ही चला भी जाता है।

इसके अलावा घर के बाहर आपकी नेमप्लेट जितनी साफ और चमकदार होगी, नकारात्मक ऊर्जा आपके घर से उतनी ही दूर रहेगी। मुख्यद्वार के सामने मंदिर, वृक्ष, कुआं या स्तंभ नहीं होना चाहिए। मुख्य द्वार पर क्रिस्टल बॉल लटकाएं। इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं कर पाती। इसके अलावा मेन डोर पर लाल रंग का फीता भी बांध सकते हैं। घर के बाहर रोशनी का इंतजाम जरूर करें। बल्ब या ट्यूबलाइट लगाएं, अंधेरा होते ही उसे ऑन कर दें।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper