चलती ट्रेन में चेन खींचने वालों से सख्ती से निपटेगा रेलवे प्रशासन, एस्कॉर्ट टीमों को किया गया तैनात

 


लखनऊः चलती ट्रेनों में चेन खींचने वालों के प्रति रेलवे प्रशासन अब और सख्त हो गया है। आने वाले त्योहारी सीजन को देखते हुए लखनऊ मंडल के कई रूटों की ट्रेनों में रेलवे सुरक्षा बल की एस्कॉर्ट टीमों को तैनात किया गया है। उत्तर रेलवे के लखनऊ-फैजाबाद, लखनऊ-रायबरेली और लखनऊ-उन्नाव रूट पर ट्रेनों को रोकने के लिए सबसे ज्यादा चेन पुलिंग होती है। आने वाले त्योहारी सीजन को देखते हुए रेलवे सुरक्षा बल की एस्कॉर्ट टीमों को इन रूटों की ट्रेनों में तैनात किया गया है। एस्कॉर्ट टीमों की तत्परता से लखनऊ मंडल के इन रूटों पर चलने वाली ट्रेनों में चेन खींचने वाले यात्रियों को पकड़ा जा रहा है। उत्तर रेलवे के लखनऊ मंडल में पिछले आठ महीने में चलती ट्रेनों में अलार्म चेन खींचने के मामले में करीब 474 लोग पकड़े गए हैं। इनमें से 46 लोगों से रेलवे कानून के तहत जुर्माना वसूल कर छोड़ दिया गया है। जबकि 428 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। इससे रेलवे को जुर्माना के रूप 4.28 लाख रुपये की आय हुई है।

बुजुर्ग या दिव्यांग व्यक्ति को ट्रेन में चढ़ने में वक्त लग रहा हो और ट्रेन चल दे। अचानक बोगी में किसी की तबीयत खराब हो जाए। ट्रेन में चोरी-डकैती या आगजनी की घटना हो जाए। कोई बुजुर्ग या बच्चा छूट जाए और ट्रेन चल दे तो ट्रेन को भी रोका जा सकता है। फिलहाल ट्रेन में चेन पुलिंग किसी न किसी विषम परिस्थिति और उचित कारण से ही की जा सकती है।

रेलवे के नियमों के तहत चेन पुलिंग की सुविधा का दुरुपयोग कानूनन जुर्म है। रेलवे अधिनियम की धारा 141 के तहत यदि कोई यात्री बिना किसी उचित और पर्याप्त कारण के अलार्म चेन का इस्तेमाल करता है तो उस पर करीब 1,000 रुपये का जुर्माना लगाया जा सकता है या एक साल की कैद हो सकती है। वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक जगतोष शुक्ल ने बताया कि अचानक चेन पुलिंग करने पर ट्रेन 15 से 20 मिनट तक लेट हो जाती हैं। इससे यात्रियों को दिक्कतों होने के साथ ईंधन की बर्बादी भी होती है। आने वाले त्योहारी सीजन को देखते हुए चेन पुलिंग करने वालों के प्रति रेलवे सुरक्षा बलों को अलर्ट कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि सुरक्षा बलों की सतर्कता के चलते पिछले आठ महीने में करीब 428 लोगों को चेन खींचने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। रेलवे की सख्ती से चेन खींचने की घटनाओं में कमी आई है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper