चाइल्डलाइन से दोस्ती सप्ताह के अन्तर्गत जिला अधिकारी द्वारा हस्ताक्षर कर हस्ताक्षर अभियान का किया शुभारम्भ

बरेली: महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, भारत सरकार एवं चाइल्डलाइन इण्डिया फॉउन्डेशन के सहयोग से जनपद बरेली में चाइल्डलाइन का आयोजन सहयोगी संस्था दीपजन कल्याण समिति के माध्यम से किया जा रहा है। बरेली चाइल्डलाइन एवं रेलवे चाइल्डलाइन के माध्यम से मुसीबत में फॅसे हुये, घर से भागे हुये, भटके हुये, बीमार, अनाथ, घायल, प्रताड़ित, लावारिस, भिक्षावृत्ति में लिप्त, स्ट्रीट चिल्ड्रन आदि बच्चों के सहयोग, पोषण एवं पुर्नवास हेतु आपात सहायता व अन्य सहायता (बच्चों के अधिकार से सम्बन्धित) दी जा रही है।

इसी क्रम में चाइल्डलाइन इण्डिया फॉउन्डेशन के निर्देशानुसार दिनांक 14 से 19 नवम्बर, 2022 तक बच्चों के माध्यम से चाइल्डलाइन से दोस्ती सप्ताह मनाया जा रहा है, जिसमे कि जिले में बच्चों के माध्यम से रंगोली, कला, निबन्ध प्रतियोगिता, नुक्कड़ नाटक, रैली, हस्ताक्षर अभियान, खेल कूद आदि कार्यक्रमों का आयोजन प्रत्येक दिन किया जा रहा है। जिससे कि बच्चों को मनोरंजन के साथ-साथ चाइल्डलाइन नम्बर 1098 समेत अन्य   महत्त्वपूर्ण हेल्पलाइन्स नम्बरों की जानकारी, जागरूकता व बच्चों को उनके अधिकारों के प्रति जानकारी व जागरूकता प्रदान की जा रही है एवं बरेली को चाइल्ड फ्रेन्डली सिटी बनाने की ओर प्रयास किया जा रहा है। जिससे कि वह समय पडने पर चाइल्डलाइन नम्बर 1098 पर कॉल कर सहायता प्राप्त कर सके। इसके अतिरिक्त चाइल्डलाइन द्वारा बच्चो के बीच अन्य महत्वपूर्ण हेल्पलाइन यथा 112, 102, 108, 1090 आदि के प्रति भी जागरूकता बढ़ायी जा रही है।

जिलाधिकारी श्री शिवकान्त द्विवेदी की अध्यक्षता में आज चाइल्डलाइन दोस्ती सप्ताह कार्यक्रम के अन्तर्गत हस्ताक्षर अभियान में हस्ताक्षर कर शुभारम्भ किया एवं चाइल्डलाइन कर्मचारियों से चाइल्डलाइन परियोजना के विषय में जानकारी ली तथा चाइल्डलाइन से दोस्ती सप्ताह कार्यक्रम की सफलता हेतु शुभकामनाये दी गयी। इसके अतिरिक्त एस0पी0 (क्राइम), नगर मजिस्ट्रेट, जिला प्रोबेशन अधिकारी, अध्यक्ष बाल कल्याण समिति, सदस्य किशोर न्याय बोर्ड समेत अनेकों गणमान्य व्यक्तियों द्वारा हस्ताक्षर कर चाइल्डलाइन से दोस्ती सप्ताह की सफलता हेतु शुभकामनाएं दी गयी।

जिला प्रोबेशन अधिकारी/जिला बाल संरक्षण अधिकारी/उपनिदेशक महिला कल्याण श्रीमती नीता अहिरवार की अध्यक्षता में समन्वय बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें श्री दिनेश चन्द्र (अध्यक्ष मा0 बाल कल्याण समिति, बरेली) डॉ0 राखी चौहान (सदस्य मा0 बाल कल्याण समिति, बरेली) प्रभारी ए0एच0टी0यू0, प्रभारी वन स्टॉप सेन्टर, निदेशक चाइल्ड लाइन तथा बरेली चाइल्ड लाइन एवं रेलवे चाइल्ड लाइन बरेली के समस्त कर्मचारी उपस्थित रहे। बैठक में जिला प्रोबेशन अधिकारी/बाल संरक्षण अधिकारी श्रीमती नीता अहिरवार द्वारा बाल संरक्षण के क्षेत्र में काम कर रही चाइल्डलाइन समेत अन्य सभी को निर्देशित किया कि जे0जे0 एक्ट एवं चाइल्ड प्रोटेक्शन पॉलिसी में बच्चों की पहचान एवं चित्र गोपनीय रखने तथा पहचान न उजागर करने हेतु किये गए प्रावधानों का सख्ती से अनुपालन किये जाने हेतु निर्देशित किया गया। श्रीमती अहिरवार ने कहा कि चाइल्डलाइन एवं रेलवे चाइल्डलाइन बरेली द्वारा जिले में उत्कृष्ट कार्य किया जा रहा है। जिसमें जिला बाल संरक्षण इकाई, बाल कल्याण समिति एवं ए0एच0टी0यू0 का अच्छा सहयोग प्राप्त हो रहा है।

चाइल्डलाइन दोस्ती सप्ताह के अन्तर्गत हो चुके व प्रस्तावित कार्यक्रम की समीक्षा की गयी तथा सभी आगामी प्रस्तावित कार्यक्रमों को प्रभावी रूप से संचालित करने हेतु दिशा निर्देश दिये गये। बैठक में जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा चाइल्ड लाइन ए0एच0टी0यू0 तथा बाल संरक्षण इकाई को निर्देशित किया कि माह में एक बार आवश्यक रूप से लडकों हेतु संचालित इण्टर कॉलेजो में जा कर पॉक्सो एक्ट एवं जे0जे0 एक्ट में बाल यौन अपराधों हेतु किये गये प्रावधानों की जागरूकता हेतु कार्यक्रम (गतिविधियों) का संचालन किया जाये ताकि भविष्य में अनेकों बालको पॉक्सो एक्ट जैसी धाराओं के अंतर्गत जानकारी दी जा सके एवं पॉक्सो एक्ट जैसी अन्य धाराओं के विषय में जागरूक किया जा सके एवं बाल अपराधों में कमी आ सके। इसके अतिरिक्त चाइल्डलाइन से दोस्ती सप्ताह के अन्तर्गत कार्यक्रमों एवं चाइल्ड लाइन परियोजना के व्यापक प्रचार-प्रसार तथा उच्चाधिकारियों के समक्ष प्रस्तुतीकरण हेतु चर्चा कर महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये।

बरेली से ए सी सकसेना ।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper