चारा घोटाला : लालू के लिए तेजप्रताप ने मंदिर में पूजा-अर्चना की

पटना: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को अदालत चारा घोटाले के एक मामले में सजा सुनाने वाली है। इससे पहले उनके बेटे और बिहार के पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव और कार्यकर्ताओं ने भगवान की शरण में पहुंचकर पूजा-याचना की। लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव अपने पिता की रिहाई के लिए बुधवार सुबह पटना जंक्शन के समीप स्थित प्रसिद्ध माहवीर मंदिर पहुंचे और पूजा अर्चना की, और अपने पिता के लिए दुआ मांगी। इस दौरान उन्होंने न्यायालय पर अपनी आस्था भी प्रकट की।

तेजप्रताप के लिए मंदिर जाकर पूजा अर्चना करने कोई नई बात नहीं है। वह अक्सर मंदिर जाते हैं और पूजा अर्चना करते रहते हैं। इधर, लालू की रिहाई के लिए मुंगेर के प्रसिद्ध चंडिका स्थान में भी कार्यकर्ताओं द्वारा पूजा और हवन किया गया। पार्टी के मुंगेर जिलाध्यक्ष प्रमोद यादव की अगुवाई में चंडिका स्थान पर कार्यकर्ता पहुंचे और अपने नेता की भलाई के लिए पूजा अर्चना की। यादव ने बताया कि पार्टी समर्थकों ने लालू प्रसाद की जेल से रिहाई के साथ-साथ उनके अच्छे स्वास्थ्य की कामना की। पार्टी समर्थकों ने पूजा अर्चना के साथ-साथ हवन भी किया।

इसके अलावा, राजद के कई कार्यकर्ताओं ने मुंगेर पीर नफा साहेब के मजार पर चादर चढ़ाकर लालू के लिए दुआ मांगी। चर्चित चारा घोटाले के एक मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो की विशेष अदालत ने 23 दिसंबर को लालू प्रसाद को दोषी करार दिया था। इस मामले में बुधवार (आज) अदालत सजा सुनाने वाली है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper