चार दिवसीय खादी महोत्सव 6 दिसम्बर से इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में शुभारम्भ

लखनऊ ब्यूरो। प्रदेश खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड लखनऊ द्वारा चार दिवसीय खादी महोत्सव का आयोजन 6 दिसम्बर से स्थाानीय इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान के जूपिटर हाल प्रेक्षागृह में किया गया है। महोत्सव एवं इस अवसर पर आयोजित प्रदर्शनी का उद्घाटन प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा किया जायेगा। महोत्सव में विशिष्ट अतिथि के रूप में केन्द्रीय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री गिरिराज सिंह तथा खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग भारत सरकार के अध्यक्ष विनय कुमार सक्सेना भी भाग लेंगे।

खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के प्रमुख सचिव नवनीत सहगल ने बुधवार को बताया कि 09 दिसम्बर तक चलने वाले इस महोत्सव में खादी की पारम्परिक कला और शिल्प को प्रदर्शित करने तथा खादी उत्पादों को अधिकाधिक लोकप्रिय बनाने के लिये खादी एवं ग्रामोद्योग विषय पर परिचर्चा का भी आयोजन किया गया है, जिसें लघु उद्योग एवं ग्रामोद्योग क्षेेत्र के विशेषज्ञ सम्बोधित करेंगे।

महोत्सव में खादी फैशन शो का भी होगा आयोजन

सहगल ने बताया कि इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान में ही 6 दिसम्बर को सायं 7 बजे उत्तर प्रदेश खादी महोत्सव-2018 को लोकप्रिय बनाने के उद्देश्य से खादी फैशन शो का भी आयोजन किया गया है। फैशन शो में मुख्य अतिथि केन्द्रीय सूक्ष्म एवं लघु उद्योग मंत्री गिरिराज सिंह तथा विशिष्ट अतिथि विनय कुमार सक्सेना अध्यक्ष खादी ग्रामोद्योग भारत सरकार होंगे। फैशन शो कार्यक्रम की अध्यक्षता उत्तर प्रदेश खादी एवं गा्रमोद्योग विभाग के मंत्री सत्यदेव पचौरी करेंगे।

प्रमुख सचिव ने बताया कि महोत्सव में खादी एवं ग्रामोद्योग क्षेत्र के उत्पादों का उत्कृष्ट प्रदर्शन किया जायेगा। खादी के उत्पाद आम लोगों को बिक्री के लिये भी उपलब्ध होंगे। यह महोत्सव नि:शुल्क है, जो दर्शकों के अवलोकन के लिये खुला रहेगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper