चालान काटा तो जेई ने कटवा दी थाने और चौकी की बिजली, पुलिस विभाग में मचा हड़कंप

मेरठ। नए वाहन अधिनियम के कारण रोज नए-नए मामले सामने आ रहे हैं। वाहन चालकों और पुलिसकर्मियों से इस मामले में कई जगहों पर झड़पें भी हो रही हैं। मामले भी बड़े दिलचस्प टाइप के सामने आ रहे हैं। मेरठ में गुरूवार की रात एक ऐसा ही मामला तेजगढी चौराहे पर हुआ। जहां ट्रैफिक के हवलदार ने विद्युत विभाग के एक जेई की स्कूटी का चालान काट दिया। विद्युत विभाग के जेई ने भी अपने अधिकारों का प्रयोग करते हुए मेडिकल थाने की और तेजगढ़ी पुलिस चौकी की बिजली काट दी।

थाने और चौकी की बिजली कटते ही पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। इस पर थानाध्यक्ष ने जानकारी अपने आलाधिकारियों को दी। जिस पर बिजली विभाग के अधिकारियों से बात की गई। हालांकि अधिकारियों के हस्ताक्षेप के कारण थाने की बिजली तो जोड़ दी गई। लेकिन चौकी पर बिजली चोरी का तर्क देते हुए जेई ने यहां की बिजली जोडऩे से साफ मना कर दिया।

यौन शोषण मामले में भाजपा नेता चिन्मयानंद गिरफ्तार

सहारनपुर निवासी सोमप्रकाश गर्ग मेडिकल क्षेत्र के बिजलीघर पर जेई हैं। गुरुवार को स्कूटी से जा रहे थे। तेजगढ़ी चौराहे पर ट्रैफिक पुलिस के हेड कांस्टेबल राजेश कुमार ने हेलमेट और प्रदूषण जांच न होने पर उनका चालान काट दिया। इसके बाद जेई ने कर्मचारियों को बुलाकर मेडिकल थाना और तेजगढ़ी चौकी की बिजली कटवा दी। मेडिकल इंस्पेक्टर ने इसकी जानकारी अपने अधिकारियों को दी। इसके बाद विभाग के अधिकारियों ने जेई को बिजली जोडऩे को कहा। जेई ने थाने पर करीब डेढ़ लाख रुपये बिजली का बकाया बिल बताया। जबकि तेजगढ़ी चौकी पर बिजली चोरी करने की बात कहकर बिजली काटने का तर्क दिया।

चालान काटने वाले हेड कांस्टेबल राजेश कुमार का आरोप है कि जेई शराब के नशे में थे। वह उन्हें धमकी दे रहा था। ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन में चालान काटा गया था। वहीं जेई सोमप्रकाश का कहना है कि सिर में एलर्जी के चलते उन्होंने हेलमेट नहीं पहना था। नशे की बात गलत है। तेजगढ़ी चौकी पर मीटर नहीं है, चोरी से बिजली चला रहे हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper