चिन्मयानंद मामला : कांग्रेस ने उप्र, केंद्र की भाजपा सरकार की निंदा की

नई दिल्ली: पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ कानून की छात्रा द्वारा दुष्कर्म और शोषण के नए आरोप लगाए जाने के एक दिन बाद कांग्रेस ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश और केंद्र की भाजपा सरकार की निंदा की। कांग्रेस ने भाजपा पर महिलाओं के खिलाफ अपराधों से निपटने में ‘अक्षम’ होने का आरोप लगाया। कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी नायक ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “आपराधिक इतिहास का स्पष्ट उदाहरण दोहराया जा रहा है और यह देश के सबसे बड़े राज्य (उत्तर प्रदेश) में देखा जा सकता है, जहां भाजपा का शासन है।”

उन्नाव दुष्कर्म मामले का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, “उन्नाव की 16 साल की बेटी से दुष्कर्म किया गया, यहां तक कि उसके अनुनय का योगी सरकार के बहरे कानों पर कोई असर नहीं हुआ। उसके पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गई, उसे आत्महत्या करने के लिए प्रेरित किया गया, जबकि भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने जेल जाकर दुष्कर्म के आरोपी से मुलाकात की।” उन्होंने भाजपा को निशाना बनाते हुए कहा, “पीड़ित ने परिवार के एक अन्य सदस्य को रहस्यमय सड़क दुर्घटना में खो दिया, जिसके बाद पीड़ित ने दिल दहलाने वाला एक पत्र प्रधान न्यायाधीश को लिखा, जिसके बाद कार्रवाई शुरू हुई।”

कांग्रेस प्रवक्ता ने काले कपड़े से चेहरे को ढकी महिला का वीडियो भी चलाया, जिसमें उसने चिन्मयानंद द्वारा दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। नायक ने कहा, “एक लड़की सामने आई और शिकायत की कि भाजपा नेता स्वामी चिन्मयानंद ने एक साल तक उसके साथ दुष्कर्म किया। अब इस वीडियो में वह कह रही है कि उससे (पीड़ित) एसआईटी (विशेष जांच टीम) ने रविवार को 11 घंटे तक पूछताछ की, जबकि अरोपी से यहां 11 मिनट भी पूछताछ नहीं की गई।” सरकार की आलोचना करते हुए नायक ने कहा कि जब महिला का पिता शिकायत दर्ज कराने गया तो पुलिस ने उससे कहा कि चिन्मयानंद के खिलाफ शिकायत नहीं दर्ज कराएं, सिर्फ पीड़िता के लिए गुमशुदगी का रिपोर्ट दर्ज कराएं।

उन्होंने कहा, “आप देख सकते हैं कि कैसे पुलिस साफ तौर पर सरकार के हाथों में खेल रही है।” उन्होंने कहा, “इस घटना में कोई भी साफ तौर पर भाजपा, मोदी सरकार व योगी आदित्यनाथ सरकार की महिलाओं के खिलाफ अपराध से निपटने में उनकी अक्षमता को देख सकता है।” उन्होंने कहा, “इस घटना के साथ उनकी महिला विरोधी मानसिकता, खुल्लम-खुल्ला सत्ता का दुरुपयोग और उनकी अपराधियों से मिलीभगत की छवि सामने आई है।” उल्लेखनीय है कि शाहजहांपुर में सोमवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कानून की छात्रा ने दावा किया कि उसकी तरह ही चिन्मयानंद ने कई अन्य लड़कियों का शोषण किया, लेकिन उसने अकेले आगे आकर शिकायत दर्ज कराई है। उसने भाजपा नेता पर साल भर तक दुष्कर्म व शारीरिक शोषण का आरोप लगाया।

महिला उस लॉ कॉलेज की छात्रा है, जिसके चिन्मयानंद निदेशक हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper