चीन से जुड़े और ऐप्स होंगे बैन, ड्रैगन को फिर झटका देने की तैयारी में भारत

नई दिल्ली: 59 चीनी मोबाइल ऐप्स को बैन करने के बाद सरकार ड्रैगन को ऐसे और झटके देने की तैयारी में है। मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इन्फॉर्मेश टेक्नॉलजी ने कई मोबाइल ऐप्स को बैन करने का फैसला किया है, जिनकी जड़ें चीन में हैं। इस मामले से जुड़े अधिकारियों ने यह जानकारी दी है।

अधिकारी ने यह भी बताया कि हैलो लाइट, शेयर इट लाइट, बिगो लाइट और वीएफवाई लाइट को गूगल प्ले स्टोर और एपल ऐप स्टोर से हटा दिया गया है। गलवान घाटी में भारत-चीनी सैनिकों के बीच हिंसक झड़प के बाद सरकार ने पिछले महीने टिकटॉक सहित 59 चाइनीज ऐप्स को बैन कर दिया था। सीमा पर इस हिंसा में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे।

ऐप्स को बैन करते हुए सरकार ने इन्हें देश की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा के लिए नुकसानदायक बताया था। अधिकारी ने बताया, ”बैन के बावजूद लाइट वर्जन के जरिए ये ऐप्स चल रहे थे। अब इन्हें भी ऐप स्टोर से हटा दिया गया है।

गौरतलब है कि अभी भी कई ऐसे एप्स प्ले स्टोर में मौजूद हैं, जिनका लिंक चीन से है। सरकार अब इन्हें भी बैन करके चीन को चोट पहुंचाना चाहती है। पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना संकट के दौरान आत्मनिर्भर भारत का मंत्र दिया। उन्होंने हाल में देश के सॉफ्टवेयर इंजीनियर्स को देश को डिजिटल दुनिया में भी आत्मनिर्भर बनाने का टारगेट दिया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper