चुटकुले – गर्मियों में महिलाओं को चाहे जितना भी गन्ने का रस …

पप्पू पुलिस स्टेशन गया…..
पप्पू : सर, मुझे अरेस्ट कर लीजिए। मैंने अपनी पत्नी के सर पर डंडा मारा है।
पुलिस : क्या वो मर गई?
पप्पू : बच गई है और अब मेरी खैर नहीं।

एक लड़का भागते हुए एक लड़की के पास आया….
लड़का : मैं तुमसे दोस्ती करना चाहता हूं। लड़की : तो हमारी दुश्मनी कब थी भैया? जो आप दोस्ती करना चाहते हो।

पिक्चर हॉल में इंटरवल के बाद अंधेरे में अपनी सीट की ओर लौटती मंजू ने कोने वाली सीट पर बैठे संजू से पूछा….
मंजू : भाई साहब, क्या बाहर जाते समय मैंने गलती से आपका पैर कुचल दिया था? संजू (गुस्से में) : हां, कुचला था। अब क्या माफी मांगने हैं?
मंजू : माफी-वाफी नहीं मांगनी है भैया, इसका मतलब मेरी सीट इसी लाइन में है।

लड्डू (गुड्डू से) : गर्मियों में महिलाओं को चाहे जितना भी गन्ने का रस, नींबू पानी, पुदीना, कैरी पत्ता, छाछ, दही, लस्सी पिला दो, नहीं मिलती उसको ठंडक नहीं मिलती है।
गुड्डू : तो कैसे ठंडक मिलती है?
लड्डू : ठंडक तो उन्हें मायके जाकर ही मिलती है।

लड़की का पिता (गुस्से में) : तुम मेरी बेटी से गाली-गलौज करते हो?
लड़का : जी ससुर जी, आपकी बेटी ने ही शादी के वक्त मुझसे कहा था कि मुझसे दोस्तों जैसा व्यवहार करना।

सास (नई बहू से) : तुम्हें खीर बनाना आता है?
बहु : जी मम्मी जी, आता है।
सांस : बताओ कैसे बनाया जाता है?
बहु : सबसे पहले एक पेपर लो और उस पर खीरा लिखो फिर इसमें से आ की मात्रा हटा दो…तैयार है की खीरा से खीर।
सास सुनते ही बेहोश हो गई…..

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper