चुनावी मोड में भाजपा, 2019 है टारगेट

नई दिल्ली: केंद्र की सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी ने मिशन 2019 के लिए अभी से चुनावी बिगुल फूंक दिया लगता है। भाजपा 3 दिन में तीन यात्रा शुरू कर रही है, जिसमें चुनाव का एजेंडा भी साफ है. मंगलवार को यूपी के अयोध्या से रामेश्वरम के लिए ‘राम राज्य यात्रा’ शुरू हुई तो वहीं राष्ट्र रक्षा महायज्ञ के लिए भाजपा ने इंडिया गेट से ‘जल-मिट्टी रथ यात्रा’ का आगाज किया। तीसरी यात्रा के रूप में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह आज हरियाणा में बाइक रैली निकालने वाले हैं।

इन यात्राओं से साफ संकेत हैं कि बीजेपी 2019 के चुनाव में विकास से ज्यादा राष्ट्रवाद, हिंदुत्व और राममंदिर को प्राथमिकता देने वाली है। राम मंदिर के लिए 28 साल बाद एक और यात्रा शुरू हुई। मंगलवार को महाराष्ट्र की संस्था श्री रामदास मिशन यूनिवर्सल सोसायटी और विश्व हिंदू परिषद ने ‘राम राज्य यात्रा’ को हरी झंडी दिखाई। देश के 6 राज्यों उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु से होकर ये यात्रा गुजरेगी। यात्रा के लिए विशेष रथ तैयार किया है जो प्रस्तावित राम मंदिर की आकृति का है।

रामदास मिशन सोसायटी का कहना है कि वह देश में रामराज्य चाहती है। भगवान राम 14 साल बाद अयोध्या वापस आए थे उसी तरह सरकार को 2019 तक 14 महीने के अंदर अयोध्या में राम मंदिर बनवा देना चाहिए। अयोध्या से वाराणसी, प्रयाग, चित्रकूट, उज्जैन, नासिक, बदलापुर, बेंगलुरु होते हुए रथ यात्रा रामेश्वरम पर खत्म होगी।

संगठन के तिरुवनंतपुरम स्थित मुख्यालय में रथ को सुरक्षित रखा जाएगा। यहां से 2019 में रथ वापस अयोध्या भेजा जाएगा। इस दौरान देश में लोकसभा चुनाव का बिगुल बच चुका होगा। विहिप की इस यात्रा से राम मंदिर का मुद्दा सियासी एजेंडे में टॉप पर आ जाएगा जो सत्तारूढ़ बीजेपी के लिए संजीवनी का काम करेगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper