चुनाव में सीएम योगी को नहीं मिलेगा वाकओवर, भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर ने साधा निशाना

गोरखपुर: भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर ने कहा कि मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोच रहे हैं कि शहर सीट से चुनाव में उन्‍हें वाकओवर मिल जाएगा, तो ऐसा नहीं होगा। वे पिछले पांच साल भी लड़े हैं। वे यह चुनाव भी लड़ेंगे और इसके बाद भी लड़ेंगे। आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रविवार की शाम दिल्ली से गोरखपुर हवाई जहाज से पहुंचे। सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ में उन्हें चुनौती देने के लिए भीम आर्मी चीफ और आजाद समाज पार्टी के अध्यक्ष चंद्रशेखर रविवार को गोरखपुर पहुंचे तो उनका कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया।

इसके बाद वह शाम पौने पांच बजे आम्बेडकर चौराहे पर पहुंचे। उन्होंने बाबा साहब भीम राव आम्बेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और मुख्‍यमंत्री पर निशाना साधा। गोरखपुर शहर सीट से आजाद समाज पार्टी के घोषित प्रत्याशी चंद्रशेखर ने सीएम योगी के पांच साल के कार्यकाल पर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि सीएम के शहर में रामराज्य का दावा किया जाता है जबकि यहां पर रोज हत्याएं हो रही हैं।

उन्‍होंने कहा कि वह मुख्‍यमंत्री से डरते नहीं हैं। जनता चुनाव में जवाब देगी। यहां पर जनता इसलिए चुप है क्योंकि जो बाबा के खिलाफ बोलता है उस पर मुकदमे लगा दिए जाते हैं। चंद्रशेखर ने बताया कि वह दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर पहुंचे हैं। उन्‍होंने कहा कि याद रखें कि देश के संविधान में ताकत है। यहां राजतंत्र और तानाशाही नहीं चलेगी। यहां की जनता से उन्हें पूरी उम्‍मीद है। यहां की जनता ने पिछले पांच साल में जो सहा है, अब उसको जवाब देने का समय आ गया है।

प्रियंका के परिजनों से मिले चंद्रशेखर
शाम करीब सात बजे चंद्रशेखर गोरखपुर विश्वविद्यालय परिसर में सुसाइड करने वाली छात्रा प्रियंका भारती के परिवारीजनों से मिलने पहुंचे। उन्होंने कहा कि प्रियंका के परिवारीजनों को न्याय अब तक नहीं मिला। उसके पिता यहां पर लड़ते रहे और पुलिस ने मामले में अंतिम रिपोर्ट लगा दी। मनीष कन्‍नौजिया की हत्‍या कर दी गई। दो बच्‍चों की हत्‍या कर दी गई। 15 दिनों तक उनका शव नहीं मिला। एफआईआर तक नहीं लिखी गई।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper