चेकिंग के दौरान युवती को डंडा मारने वाले दो सिपाहियों पर गिरी गाज

लखनऊ: राजधानी के गोमतीनगर स्थित जनेश्वर मिश्र पार्क के सामने मंगलवार शाम वाहन चेकिंग के दौरान गाड़ी रोकने के लिए डंडा चलाना दो सिपाहियों को महंगा पड़ गया। मामले को संज्ञान में लेकर बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दोनों सिपाहियों को तत्काल निलंबित करने के आदेश वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार को दिया है। इसके साथ ही मामले की जांच एएसपी चक्रेश मिश्र को सौंपी गई है।

गोमतीनगर की रहने वाली प्रगति रोटरी इंटरनेशनल के पत्रकारपुरम स्थित कार्यालय में नौकरी करती है। आरोप है कि मंगलवार शाम ऑफिस की छुट्टी होने के बाद वह अपने दोस्त रिचांक तिवारी के साथ मोटर साइकिल से एसआरएस मॉल जा रही थी। इसी दौरान जनेश्वर मिश्र पार्क के गेट नंबर दो के सामने वाहन चेकिंग कर रही पुलिस ने उनकी मोटर साइकिल को रोकने का प्रयास किया, जब रिचांक ने मोटरसाइकिल रोकी तो सिपाही अंकित नागर ने डंडा चला दिया, जो उसके पीछे बैठी प्रगति की नाक पर जा लगा, जिससे उसकी नाक से खून बहने लगा और आंख में चोट लग गई। इससे वह बेहोश होकर नीचे गिर पड़ी।

इसके बाद पुलिस कर्मियों ने आनन-फानन में घायल युवती को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। इस मामले को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गंभीरता से लिया और दोषी सिपाहियों को निलबिंत करने के आदेश एसएसपी को दिये। इसके बाद कप्तान ने दोनों सिपाहियों को निलंबित करते हुए जांच के आदेश दिये हैं।

सिविल मामले में पुलिस रात में नहीं देगी दबिश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश पुलिस को सिविल मामलों में रात में दबिश नहीं देने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि जघन्य अपराध के अभियुक्त के अलावा अन्य सामान्य अपराध के वारंट तामील के लिए पुलिस रात में कार्रवाई नहीं करेगी। मंगलवार को आशियाना क्षेत्र में सिविल मामले में वारंट तामील कराने गए पुलिस कर्मियों के दुर्व्यवहार की घटना को संज्ञान में लेते हुए मुख्यमंत्री ने यह आदेश दिया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper