छह माह पहली जिस लड़की का किया था अंतिम संस्कार, आज वह ज़िंदा घर लौट आई

नई दिल्ली: बाहरी दिल्ली के मियांवाली नगर इलाके में एक अजीबों-गरीब मामला समाने आया है। करीब छह माह पहले एक लड़की की लाश मियांवाली नगर स्थित नाले से टुकड़ों में पॉलीथिन के अंदर से बरामद हुई थी, जिसकी पहचान उसके बड़े भाई ने सोनी (16) के रूप में की थी। लेकिन छह महीने बाद अचानक सोनी घर पहुंच गई जिसको देखकर परिवार हैरान भी है और खुश भी कि उनको अपनी सोनी मिल गई है। वहीं परिवार ने मामले की सूचना दिल्ली पुलिस को दी।

पुलिस भी अब हैरान है कि यह कैसे हो सकता है। अब पुलिस को यह समझ में नहीं आ रहा है कि जिस हत्या के मामले में गोरी नामक लड़की और उसके दो साथियों को पकड़ा था, वो लाश सोनी की नहीं होकर किसकी थी। सारे सवालों के जवाब जानने के लिए पुलिस की दो टीम झारखंड के लिये रवाना हो गयी है। पुलिस अब सोनी से पूछताछ करेगी कि अगर वो ही सोनी है तो वो इतने दिन तक कहां थी ? उसने क्यों परिवार से संपर्क नहीं किया ? वह इस बीच किस-किस के संपर्क में रही। साथ ही पुलिस उक्त लड़की का डीएनए टेस्ट भी करवायेगी।

मुस्लिम ‘वोट बैंक’ वाले VIDEO पर सियासी पारा गर्म, कमलनाथ के भीतरी कमरे का विभीषण कौन!

बाहरी जिले के एडिशनल डीसीपी राजेन्द्र सिंह सागर के अनुसार बुधवार शाम करीब पांच बजे उन्हें सोनी के परिवार वालों ने फोन करके सूचना दी की सोनी जिंदा है। सूचना के बाद तुरंत दो टीम झारखंड के लिये रवाना कर दी गई है। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार गत पांच मई को मियांवाली नगर थाना पुलिस को सूचना मिली कि नाले में टुकड़ों में पॉलीथिन में शव मिला है। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये नजदीकी अस्पताल के शवगृह में सुरक्षित रखवा दिया। सीसीटीवी फुटेज खंगालने के बाद पुलिस ने एक आरोपित को गिरफ्तार किया। उसके बाद मृतक लड़की की पहचान झारखंड निवासी के रूप में हुई है। पुलिस ने परिजनों को मामले की सूचना दी।

लखनऊ में इस बार झूलेलाल वाटिका में लगेगा कतकी मेला

सूचना मिलते ही मृतका का बड़ा भाई आया और लाश की पहचान अपनी बहन सोनी के रूप में की,लेकिन अब सोनी के घर आने के बाद पुलिस की जांच पर भी सवाल खड़े हो रहे है। वहीं पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार गिरफ्तार आरोपितों ने भी हत्या की बात कबूल कर मृतका की पहचान सोनी के रूप में की और बताया कि सोनी को प्लेसमेंट एजेंसी के द्वारा फैक्ट्री में काम के लिये रखा था। पुलिस के अनुसार पकड़े गए उन तीन आरोपितों से भी दोबारा से पूछताछ की जाएगी, जिन्होंने माना था कि उन्होंने ही सोनी की हत्या की और शव के टुकड़े कर नाले में फेंक दिये थे। आरोपित ही अब ये बताएंगे कि वो लड़की कौन थी, जिसकी उन्होंने हत्या की थी। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि हत्या तो हुई थी जिसकी लाश भी मिली। अब वो लाश किसकी थी। जिसको परिवार ने सोनी बताकर अंतिम संस्कार कर दिया था।

गिरिराज सिंह ने फिर दिया बेतुका बयान, कहा- अयोध्या में नहीं तो क्या पाकिस्तान में बनेगा राम मंदिर

पुलिस के सामने अब ये पहेली की तरह हो गई है जिसकी फ़ाइल एक बार दोबारा से खोल कर जांच नए सिरे से करनी पड़ेगी। पुलिस के अनुसार सोनी जो खुद को बता रही है, उसका उस लाश से क्या संबंध था. मामले में हो सकता है कि कोई नया खुलासा होकर कोई नई गिरफ्तारी संभव हो। ज्ञात हो कि हत्या के मामले में 3 गिरफ्तारी होने के अलावा अभी भी एक आरोपी फरार है, जिसपर दिल्ली पुलिस ने 50 हजार का इनाम घोषित कर रखा है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper