जनपद में लक्ष्य के सापेक्ष वृक्षारोपण किया जाए : जिलाधिकारी

बरेली, 2 जुलाई। जिलाधिकारी श्री शिवाकान्त द्विवेदी ने जनपद के समस्त विभागों के अधिकारियों से कहा कि वन विभाग से समन्वय बनाकर लक्ष्य के सापेक्ष वृक्षारोपण किया जाए। उन्होंने नगर निगम को निर्देश दिये कि समस्त डिवाइडरों पर वृक्षारोपण किया जाये। उन्होंने कहा कि 5 जुलाई को समस्त तहसील और ब्लाक स्तर पर वृक्षारोपण कार्यक्रम वृहद स्तर पर किया जाये।

जिलाधिकारी कल कलेक्ट्रेट सभागार में जिला वृक्षारोपण समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्री जग प्रवेश, अपर जिलाधिकारी नगर डॉ. आर.डी. पाण्डेय, डी.सी मनरेगा श्री गंगाराम, जिला वनाधिकारी श्री समीर कुमार, जिला कृषि अधिकारी श्री धीरेन्द्र सिंह चौधरी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी श्री विनय कुमार, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी श्री ललित कुमार, एस.पी. क्राइम श्री मुकेश प्रताप सिंह सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।

जिलाधिकारी श्री शिवाकान्त द्विवेदी ने कहा कि जिन विभागों द्वारा वृक्षारोपण किया जाए उनकी जियो टैगिंग करते हुए पौधों की देखरेख अवश्य की जाये। उन्होंने नगर निगम को निर्देश दिये कि पौधों का उठान कराते हुए शत प्रतिशत वृक्षारोपण कराया जाए। उन्होंने जिला कृषि अधिकारी को निर्देश दिये कि ऐसे कृषकों को पौधे दिये जाए जो कृषक सम्मान निधि का पात्र हो। जिलाधिकारी ने श्रम विभाग को निर्देश दिए कि प्रत्येक भट्टों पर भी वृक्षारोपण कराया जाए।

जिलाधिकारी श्री शिवाकान्त द्विवेदी ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिये कि समस्त विद्यालयों में बाउंड्री वॉल के किनारे वृक्षारोपण अवश्य किया जाए और वृक्षों पर रोल नम्बर अवश्य अंकित किया जाये। जिलाधिकारी को वनाधिकारी ने अवगत कराया कि जनपद में 5 जुलाई को लगभग 30 लाख वृक्षारोपण किया जाएगा।

बरेली से एसी सक्सेना की रिपोर्ट

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper