जब अभ‍िषेक से नाराज हुई थीं ऐश्वर्या, दो दिन ऐसा होगया था जूनियर बच्चन का हाल

बॉलीवुड के सबसे कंट्रोवर्सिअल कपल अभिषेक और ऐश्वर्या जिन्होंने 20 अप्रैल, 2007 को शादी की थी वैसे इन दोनों की शादी कंट्रोवर्सी से किसी वजह से बरी है इस बारे में तो सभी जानते है पर इसके बाद भी आज ये दोनों के साथ काफी खुश है और एक दूसरे से काफी प्यार करते है और इन दोनों की बॉन्डिंग भी काफी अच्छी है।

ऐसा बहुत ही कम सुनने में आया होगा की इन दोनों के बिच कोई अनबन हुई है और इन दोनों की बेटी आराध्या के आने के बाद तो ये बांड और भी मजबूत हो गया है पर जहा प्यार वह अनबन न हो ऐसा हो नहीं सकता है एक बार जब ऐश्वर्या अभिषेक से परेशान हो गई थी तो अभिषेक को दो दिनों तक हॉल में सोना पड़ा था।

वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दे की अभिषेक की खुद की एक टीम भी है जिसका नाम जयपुर पिंक पैंथर्स है और वो साल 2014 में प्रो कबड्डी लीग की विजेता थी और उन्होंने जब एक बार अपनी टीम को प्रशिक्षण के लिए चेन्नई के सत्यभामा विश्वविद्यालय ले गए वह पर अभिषके ने विश्वविद्यालय के संस्थापक कर्नल जेपीआर से मुलाकात की थी।

वो कार्यालय छोटा था और दो-चार कुर्सियों और डेस्क से ज्यादा कुछ नहीं था और साथ ही नीचे जमीन पर कई ट्राफियां सजाई गईं थी जिसके देखकर वो कर्नल जेपीआर की सरल जीवन शैली से प्रभावित थे और जब उन्होंने कर्नल से इस बारे में पूछा कि ट्रॉफी को मैदान पर क्यों रखा गया है, तो कर्नल जेपीआर ने इसका उन्हें कारण बताया।

उन्होंने अभिषेक को बताया की वो सर नहीं चाहते थे कि यह पुरस्कार उन पर हावी हो और उन्होंने ये भी कहा की पुरस्कारों को आपके सिर पर चढ़ने की अनुमति कभी नहीं दी जानी चाहिए और उनकी इस बात से अभिषेक काफी प्रभावित हुए और उन्होंने अपने घर पर ऐसा करने का फैसला किया और उनकी इस हरकत की वजह से ऐश्वर्या उनसे काफी नजर हुई थी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper