जब प्रियंका ने मौसी के डर से अपने ब्वॉयफ्रेंड को छुपाया था अलमारी में, खुलासा हुआ तो हुईं बेहाल !

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा की पहचान अब बतौर लेखिका के रूप में भी होती है। हाल ही में उन्होंने अपनी पहली किताब ‘अनफिनिश्ड’ लॉन्च की है। इस किताब में प्रियंका ने अपनी जिंदगी के बारे में कई खुलासे किए हैं। किताब में उन्होंने अपनी जिंदगी की खट्टी मीठी को यादों को साझा किया है। प्रियंका चोपड़ा ने अपनी किताब ‘अनफिनिश्ड’ में एक बेहद मजेदार किस्सा भी शेयर किया है जो इन दिनों खूब चर्चा में है।

दरअसल, प्रियंका ने अपनी किशोरावस्था के कुछ साल अमेरिका में बिताए थे। जब प्रियंका अपनी मौसी केे साथ वहां रहती थीं। उस समय अमेरिका में प्रियंका एक शख्स के प्यार में पड़ गईं थीं। खास बात थी कि उस समय प्रियंका अपने रिलेशन की वजह से एक बड़ी मुश्किल में फंस गईं थीं।

बता दें कि प्रियंका की किताब ‘अनफिनिश्ड’ नौ फरवरी को ही रिलीज हुई है। रिलीज के तुरंत बाद से ही यह चर्चा में आ गई। दरअसल, प्रियंका ने किताब में दसवीं कक्षा के अपने ब्वॉयफ्रेंड के बारे में लिखा है। जिसे उनकी मौसी ने देख लिया था और प्रियंका को उसे छुपाना पड़ा था।

प्रियंका ने लिखा कि जब वो 10वीं क्लास में थीं तो वो अपने स्कूल में बॉब नाम के एक लड़के से मिली थीं जिसने बड़े ही रोमांटिक अंदाज में उनका दिल जीत लिया था। यहां तक कि दोनों ने शादी की प्लानिंग भी कर ली थी। प्रिंयका ने आगे बताया कि एक दिन वो बॉब के साथ टीवी देख रही थीं, तभी उनकी मौसी अचानक से घर आ गईं।

उसके बाद प्रियंका ने ब्वॉयफ्रेंड को अपने कमरे में अलमारी में छुपा दिया था। लेकिन उनकी मौसी को शक हो गया था और उन्होंने गुस्से में प्रियंका से अलमारी खोलने के लिए कहा। बस फिर क्या था बॉब को प्रियंका की अलमारी में देखकर उनका गुस्सा सातवें आसमान पर था और उन्होंने प्रियंका की मां से शिकायत कर दी। उस किस्से के कुछ समय बाद ही प्रियंका भारत अपने घर वापस लौट आई थीं। ऐसे ही और भी कई मजेदार किस्से इस किताब में हैं।

Source: Amar Ujala

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper