जब श्रीराम चाहेंगे बन जाएगा मंदिर

अयोध्या। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को यहां कहा कि जब भगवान श्रीराम चाहेंगे मंदिर बन जाएगा। सभी को धैर्य रखना होगा। अभी तक धैर्य रखा, थोड़ा समय और रखना होगा। मर्यादा के प्रतीक श्रीराम ने मर्यादा में रहना सिखाया है। सफलता का रहस्य मर्यादा में रहकर कार्य करना है। श्रीराम जन्मभूमि न्यास अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास के जन्मोत्सव समारोह में आयोजित संत सम्मेलन में शामिल होने आए मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने दीपोत्सव से अयोध्या को नियंतण्र पहचान दी।

उन्होंने सरयू तट पर चार दिवसीय सरयू महोत्सव का दीप प्रज्जवलन कर शुभारंभ करने के साथ सरयू आरती की। अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण को लेकर संतों द्वारा सरकार पर सवाल उठाने के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा या कोई सरकार संवैधानिक दायरे में रहकर समाधान निकालेगी। समस्या के समाधान की ओर बढ़ रहे हैं। जो अयोध्या में मंदिर निर्माण का विरोध करते थे आज उसकी बात करते हैं। यह साजिश का हिस्सा हो सकता है जिससे सावधान रहने की जरूरत है। कांग्रेस 2019 के बाद मंदिर मसले के समाधान के लिए कोर्ट में हलफनामा देती है और मंदिर निर्माण की बात करते हैं जिसे समझना होगा। अयोध्या वर्षो तक उपेक्षित रही। अब विकास के कार्यक्रम आगे बढ़े हैं। उन्होंने कहा कि रामराज्य की स्थापना पुरु षार्थ से होती है।

ऐसा दृश्य प्रधानमंत्री ने देश में पैदा किया है।उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा जनहित में शुरू की गई योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि पीएम ने 2022 तक सभी के सिर पर छत की योजना बनायी है। यूपी में एक साल में सबसे ज्यादा आठ लाख 85 हजार मकान बनवाए। निशुल्क विद्युत कनेक्शन, शुद्ध पेयजल, उज्जवला योजना में निशुल्क गैस कनेक्शन दिए जा रहे हैं। पीएम ने योग परंपरा को नियंतण्र मान्यता दी। 2019 के कुंभ में दुनिया के 192 देशों के प्रतिनिधि को आमंत्रित किया गया है। संत समाज उन्हें आशीर्वाद दें।

इससे पहले पूर्व सांसद डा. रामविलास दास वेदांती ने कहा कि बगैर कोर्ट के अनुमति के ढांचा विध्वंस हो गया उसी तरह अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर का निर्माण होगा।मुख्यमंत्री ने समारोह में शामिल होने आए संत समुदाय का अंगवस्त्र देकर स्वागत किया। इस मौके पर हरिद्वार के स्वामी परमानंद महाराज, जगतगुरु वासुदेवानंद सरस्वती, जगतगुरु वासुदेवाचार्य महाराज, महंत कन्हैया दास, पुनीत राम दास, कृपालु जी महाराज, सांसद लल्लू सिंह, अयोध्या विधायक वेदप्रकाश गुप्ता, पूर्व सांसद विनय कटियार, पूर्व सांसद डा. रामविलास दास वेदांती, मध्य प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री जयभान सिंह पवैया, गुजरात के रामप्रिया दास, प्रयाग के महंत गोपाल दास समेत बड़ी

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper