जमानत बचती न देख दबे पांव खिसके पूर्व मंत्री सलमान खुर्शीद

फर्रुखाबाद: उत्तर प्रदेश की फर्रुखाबाद लोकसभा सीट पर मतगणना के रुझान को देख कांग्रेस उम्मीदवार पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद दबे पांव खिसक गए। उनके बाहर निकलते ही भाजपा कार्यकर्ता और सलमान के बीच तीखी झड़पें हुईं। पत्रकारों के सवाल पूछने पर उन्होंने कहा कि बड़े लोगों की बड़ी हार होती है। सलमान ने कहा कि हमें अपनी हार का दुख नहीं बल्कि पार्टी की हार का दुख है। भाजपा उम्मीदवार से तकरीबन दो लाख मतों से पिछड़े सलमान खुर्शीद को जब अपनी जमानत बचती नजर नहीं आई तो वह मतगणना स्थल से जाने लगे। सलमान जिस समय गणना केंद्र के बाहर निकले तो भाजपा कार्यकर्ताओं ने उन पर तंज कसते हुए कहा कि योगी को किस रिश्ते से अपना बेटा बताया था। जिस पर सलमान समर्थकों और भाजपा कार्यकर्ताओं में हाथापाई की नौबत आ गई।

वर्ष 1991 में कांग्रेस से चुनाव लड़े सलमान खुर्शीद ने 1,42842 मत प्राप्त कर जनता पार्टी के अनवार मोहम्मद को हराया था। उस समय कांग्रेस की सरकार बनने पर सलमान खुर्शीद को कपड़ा मंत्री बनाया गया। इसके बाद सलमान खुर्शीद ने 2009 में कांग्रेस से चुनाव लड़कर बसपा उम्मीदवार नरेश अग्रवाल को हराया। इस चुनाव में सलमान को 1,69351 वोट मिले थे। इस बार भी केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनी और सलमान को विदेश मंत्री बनाया गया। इसके बाद सलमान की वायदा खिलाफी से मतदाता नाराज हो गया। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस से मैदान में उतरे सलमान को 95,543 मतों पर संतोष कर करारी हार का मुंह देखना पड़ा। 2014 के लोक सभा चुनाव में सलमान चौथे स्थान पर रहे।

इस बार लोकसभा चुनाव में कांग्रेस से मैदान में उतरे सलमान खुर्शीद आज यहां चल रही मतगणना में दो बजे तक जमे रहे। दो बजे तक आये रुझान में भाजपा उम्मीदवार मुकेश राजपूत को 2,52921, बसपा उम्मीदवार मनोज अग्रवाल को 1,37835 तथा कांग्रेस उम्मीदवार सलमान खुर्शीद को 22773 वोट मिले। इतने कम वोट देख पूर्व मंत्री सलमान खुर्शीद को अपमी जमानत बचती नजर नहीं आई तो वह अपने समर्थकों के साथ दबे पांव खिसक गए। हालांकि पत्रकारों ने सलमान को रोका तो कहने लगे कि वह ठंडा पीने जा रहे हैं, इसके बाद लौट कर आएंगे लेकिन कुश्ती हारे पहलवान की तरह उन्होंने गणना स्थल की ओर मुड़ कर भी नहीं देखा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper