जानिए कैसे इंसान को अंधेरे में भी ढूंढ लेते हैं मच्छर? जवाब सुनकर चौक जायेंगे आप

हम कई बार मच्छरों के काटने से परेशान रहते हैं। मच्छर दिन में तो हमें काटते ही हैं साथ ही रात में भी मच्छर काटते रहते हैं। लेकिन क्या आपने कभी सोचा कि आखिर अँधेरे में भी मच्छर आपको कैसे ढूंढ लेते है? इसी बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं।

सबसे पहले ये जान लें कि मच्छर हमारा खून क्यों चूसते हैं। दरअसल मादा मच्छर अपने अंडों को विकसित और पोषित करने के लिए हमारा खून चूसती हैं। उन्हें इसके लिए प्रोटीन और विटामिन की जरूरत होती है।

अब सवाल ये कि ये हमें अँधेरे में कैसे ढूंढ लेते हैं। दरअसल, इसके पीछे की वजह हमारी सांस है। जब सांस छोड़ते हैं तो कार्बन डाईऑक्साइड निकलती है और उसी गंध के कारण मच्छर हमारी ओर चले आते हैं।

मादा मच्छर अपने ‘सेंसिंग ऑर्गेन्स’ के जरिए 30 फीट से अधिक दूरी पर ही कार्बनडाई ऑक्साइड गैस को सूंघ लेते हैं। यही गैस मच्छर अंधेरे में भी इंसान के पास पहुंच जाते हैं। इसके अलाव इंसान के शरीर की गर्मी के वजह से भी मच्छर उन तक पहुंच जाते हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper