जाने हरियाली तीज का शुभ मुहूर्त, पूजन विधि, पूजा मंत्र

लखनऊ: श्रावण माह में हरियाली तीज के व्रत का काफी महत्व है। इस बार हरियाली तीज 23 जुलाई 2020 के दिन मनाई जा रही हैं। मान्यताओं के अनुसार, इस दिन माता पार्वती का भगवान शिव से पुनर्मिलन हुआ था। आज के दिन महिलाएं अपने प​ति की लंबी आयु के लिए व्रत करती हैं और माता पार्वती एवं भगवान शिव शंकर की मन से विधिपूर्वक पूजा अर्चना करती हैं।

हरियाली तीज शुभ मुहूर्त :

हरियाली तीज का शुभ मुहर्त 22 जुलाई 2020 यानी दिन बुधवार को शाम 07 बजकर 22 मिनट से हो रहा है, जो अगले दिन 23 जुलाई 2020 दिन गुरुवार को शाम 05 बजकर 03 मिनट तक रहेगा। वही 23 जुलाई को राहुकाल दोपहर 02 बजकर 10 मिनट से दोपहर 03 बजकर 52 मिनट तक है। शिव और शक्ति की पूजा में राहुकाल का दोष कि मान्यता नहीं मणि जाती है।

हरियाली तीज पूजन मंत्र :

देहि सौभाग्य आरोग्यं देहि मे परमं सुखम्।
पुत्रान देहि सौभाग्यम देहि सर्व।
कामांश्च देहि मे।।

हरियाली तीज पूजन विधि :

हरियाली तीज सुहागिन महिलाओ के लिए काफी बड़ा दिन माना जाता हैं। आज के दिन सुहागन महिलाएं व्रत रखती है और माता पार्वती तथा भगवान शिव की पूजा अर्चना करती हैं। इस दिन सुहागिन महिलाएं स्नान आदि कर के मायके से आए हुए कपड़े पहनती हैं। पूजा के शुभ मुहूर्त में एक चौकी पर माता पार्वती, भगवान शिव तथा गणेश जी की प्रतिमा स्थापित किया जाता हैं। उसके बाद माता पार्वती को 16 श्रृंगार की सामग्री जिसमे साड़ी, अक्षत्, धूप, दीप, गंध, फूल आदि अर्पित करते हैं। फिर शिव जी को भांग, धतूरा, अक्षत्, बेल पत्र, श्वेत फूल, गंध, धूप, वस्त्र आदि चढ़ाया जाता हैं। अंत में गणेश जी की पूजा कि जाती हैं। इसके बाद हरियाली तीज की कथा सुनें। फिर भगवान शिव और माता पार्वती की आरती करते हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper