जिन दिव्यांगजनों ने अभी तक पेंशन डाटा में आधार नंबर एवं मोबाइल नंबर की केवाईसी नहीं करवाई है, ऐसे पेंशन धारक तत्काल केवाईसी करा लें

बरेली: जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी श्री योगेश पाण्डेय ने बताया कि जिन दिव्यांगजनों ने अभी तक पेंशन डाटा में आधार नंबर एवं मोबाइल नंबर की केवाईसी नहीं करवाई है, ऐसे पेंशन धारक तत्काल केवाईसी करा लें। उन्होंने कहा कि जिन दिव्यांगजनों द्वारा केवाईसी नहीं कराई जाएगी तो उन लोगों की शासन से पेंशन पर रोक लगा दी जाएगी, केवाईसी कराते समय यह भी सुनिश्चित करें कि जैसा नाम आधार कार्ड में लिखा है, वैसा ही नाम केवाईसी कराते समय फीड किया जाए।

जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी ने कहा कि दिव्यांग पेंशन प्राप्त कर रहे ऐसे लाभार्थी जिनकी केवाईसी एसएसपीवाई पोर्टल पर नहीं कराई गई है। उन्होंने कहा कि जन सुविधा केन्द्र, कामन सर्विस सेंटर, स्वयं अपने मोबाइल से तथा कार्यालय जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी विकास भवन, में उपस्थित होकर दिनांक 15 सितम्बर, 2022 तक प्रत्येक दशा में अपनी केवाईसी करा लें। उन्होंने कहा कि केवाईसी कराये जाने हेतु वेबसाइट sspy-up.gov.in है। किसी भी जानकारी हेतु टेलीफोन नंबर 0581-2420490 पर सम्पर्क कर सकते हैं। बरेली से ए सी सक्सेना ।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper