जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गौवंश संरक्षण के संबंधमें बैठक संपन्न

बरेली। जिलाधिकारी श्री शिवाकान्त द्विवेदी की अध्यक्षता में कल गौवंश संरक्षण के सम्बन्ध में बैठक विकास भवन सभागार में सम्पन्न हुई। जिलाधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, अपर पशु चिकित्साधिकारी, खंड विकास अधिकारी एवं अधिशासी नगर पालिका को निर्देश दिए कि अगले 10 दिनों तक एक अभियान चलाकर निराश्रित गोवंश कहीं पर घूमते मिलते हैं उन्हें शीघ्र पकड़कर गौशालाओं में संरक्षण किया जाए। उन्होंने कहा कि कोई भी गोवंश के टैग किया गया है और वह रोड पर घूमता मिले तो उसके पशुपालन के विरुद्ध आवश्यक कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि निराश्रित गौवंश को संरक्षण करने में ग्राम प्रधान का भी सहयोग लिया जाए और कोई भी गोवंश इधर-उधर घूमता न मिले। उन्होंने निर्देश दिए कि गौशाला में गौवंश को ठंड से बचाव, चारा, भूसा, पानी एवं विद्युत आदि की उचित व्यवस्था की जाएगी।

जिलाधिकारी ने सभी जनमानस से कहा कि जिला, तहसील एवं ब्लाक स्तर पर एक टीम गठित कि गई है, गठित टीम को निराश्रित, बीमार, घायल गौवंश तथा अन्य पशु के संबंध में सूचना प्राप्त होते ही तत्काल उसकी चिकित्सा अथवा आश्रय स्थल की सुविधा सुनिश्चित कराएं। उन्होंने कहा कि जिला मुख्यालय स्तर पर कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है जिसका दूरभाष नंबर 9935826035 एवं 9450457998 है। जो 24 क्रियाशील रहेगा। उन्होंने कहा कि कंट्रोल रूम में प्राप्त होने वाली शिकायत से संबंधित गठित टीम को अवगत कराते हुए त्वरित गति से निस्तारण सुनिश्चित कराएं।

बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अखिलेश कुमार चौरसिया, मुख्य विकास अधिकारी श्री जग प्रवेश, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 मेघ श्याम, जिला विकास अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, समस्त अपर पशु चिकित्साधिकारी, समस्त खण्ड विकास अधिकारी सहित अन्य सम्बंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

बरेली से ए सी सक्सेना की रिपोर्ट

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper