जिसके साथ लेते थे सेल्फी, वह निकला अपराधी

नई दिल्ली: जिसे हीरो समझकर लोग उसके साथ सेल्फी लेते थे, वह अपराधी निकला। इस अपराधी के साथ सेल्फी का क्रेज इतना अधिक था कि लोग 2500 रुपये की फीस तक चुकाते थे। महंगी सिगरेट और शराब के शौक को पूरा करने के लिए उसने अन्य चार लोगों के साथ मिलकर एक गिरोह बनाया, जिसमें दो नाबालिग शामिल थे।

नजफगढ़ के नंदू गैंग से प्रेरित होकर ‎‎पिछले ‎दिनों ही इस गैंग ने एक ओला कैब लूटी थी। दो अन्य स्नैचिंग के मामलों का भी खुलासा इस गिरोह ने किया है। विक्रम ने बताया कि वह 12वीं पास है। उसे महंगी सिगरेट और बीयर पीने का शौक है। नजफगढ़ का नंदू गैंग उसकी प्रेरणा है, वह उसी की तर्ज पर काफी पैसा बनाना चाहता था। नजफगढ़ में वह काफी फेमस भी है और युवा उसके साथ सेल्फी और फोटो खिंचवाने के क्रेजी रहते हैं।

कुछ महीने पहले तक वह अपने साथ सेल्फी खिंचवाने के 500 रुपये लिया करता था, अब इसके लिए वह 2500 रुपये चार्ज करता था। विक्रम ने बताया कि कुछ महीने पहले ही उसकी मुलाकात सागर से हुई। दोनों ने मिलकर जल्दी पैसा बनाने के लिए कार लूट का प्लान बनाया। विक्रम अपने गैंग में नाबालिगों को शामिल करना चाहता था ताकि उन पर शक न हो। नजफगढ़ के दो नाबालिगों को अपने गैंग में शामिल कर एक पिस्टल का इंतजाम किया। आकाश को भी गैंग में शामिल कर सरगना विक्रम बना। इनके पास चोरी की एक मोटरसाइकल थी, वारदात के लिए कार की जरूरत थी, इसलिए कैब लूटी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper