जीवन मे सफलता का मूल मंत्र है समय प्रबंधन: हरीश द्विवेदी

बस्ती। पं.दीनदयाल उपाध्याय पुस्तकालय गौरा के सभागार में आयोजित “संवाद“ तथा जनपद के 100 उत्कृष्ट शिक्षकों के एडूलीडर्स सम्मान कार्यक्रम में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय मंत्री व बस्ती के सांसद श्री हरीश द्विवेदी जी ने व्यक्तित्व विकास के विविध पक्षों पर अपनी बात रखी। कार्यक्रम में 500 से अधिक छात्र छात्राएं व शिक्षक शामिल रहे।

सांसद हरीश द्विवेदी ने कहा कि किसी भी व्यक्ति के व्यक्तित्व विकास में समय प्रबंधन का बड़ा महत्व होता है। हर व्यक्ति को समय पालन करते हुए हर कार्य एक निश्चित अनुशासन में रहकर करना चाहिए। हर व्यक्ति से सौम्य व्यवहार रखने के साथ ही शरीर की भाव भंगिमाएं भी समयानुकुल रखना चाहिए। उन्होंने पण्डित दीन दयाल उपाध्याय जी के विचारों की रूपरेखा रखते हुए व्यक्ति के भीतर राष्ट्र प्रेम की भावना को सर्वोपरि बताया। सांसद हरीश द्विवेदी ने बस्ती के युवाओं के उज्ज्वल भविष्य हेतु पुतस्कालय की स्थापना के उद्देश्य, सुविधाओ व भावी योजनाओं की जानकारी दी।

कार्यक्रम का संचालन करते हुए राष्ट्रपति पदक प्राप्त शिक्षक डॉ सर्वेष्ट मिश्र ने पण्डित दीन दयाल उपाध्याय पुस्तकालय की महत्ता व उसकी भावी कार्ययोजना की विस्तृत जानकारी दी। इस अवसर पर सांसद हरीश द्विवेदी ने टीम एडूलीडर्स द्वारा चयनित जनपद के सभी 14 विकास खण्डों व नगर क्षेत्र में स्थित परिषदीय स्कूलों में उत्कृष्ट कार्य कर रहे 100 शिक्षकों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में स्कूली बच्चो व शिक्षको ने सांसद श्री हरीश द्विवेदी जी से अपने सवाल पूछे, अपनी प्रतिक्रिया व सुझाव दिए।

पुस्तकालय सचिव विवेकानंद मिश्र जी ने पुतस्कालय की महत्ता बताते हुए सभी का आभार ज्ञापन किया। कार्यक्रम में राजेश पाल चौधरी, विनय शुक्ल, नितेश शर्मा, आशीष श्रीवास्तव, अभिनव उपाध्याय, शशांक शुक्ल, राकेश पाण्डेय, बृजेश गुप्ता, रमेश विश्वकर्मा, मोहम्मद इकबाल, कांचन माला त्रिपाठी, रीता सिंह, आराधना, विनय चौधरी सहित बड़ी संख्या में शिक्षक व छात्र छात्राएं उपस्थित रहे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper