जूनियर डॉक्टरों ने तीमारदार सिपाही को पीटा, मरीज को बनाया बंधक

कानपुर ब्यूरो। उत्तर प्रदेश की व्यावसायिक राजधानी कानपुर के एलएलआर अस्पताल (हैलट) के जूनियर डॉक्टरों ने एक बार फिर गुंडागर्दी करते हुए मरीज के साथ आए भतीजे सिपाही की जमकर पिटाई कर दी। यही नहीं मरीज को बंधक बना लिया और इलाज करने से मना कर दिया। साथ ही पुलिस को सूचना दे सिपाही के भाई को गिरफ्तार करवा दिया।

फतेहपुर जनपद के भैरमपुर निवासी भूपेन्द्र कुमार यूपी पुलिस में आरक्षी हैं और इन दिनों महोबा कोतवाली में तैनात हैं। ताऊ शिवबली की तबियत खराब होने पर भूपेन्द्र ने उन्हे हैलट अस्पताल में भर्ती कराया। भूपेन्द्र के मुताबिक, मंगलवार दोपहर उसने डॉक्टरों से उपचार संबंधी जानकारी लेनी चाही। डॉक्टरों से पूछा तो वह भड़क गए। जिसके बाद डाक्टरों ने गाली-गलौच शुरू कर दी और विरोध करने पर बेरहमी से पिटाई की। इतना ही नहीं ताऊ को बंधक भी बना लिया। डॉक्टरों ने पुलिस को बुलाकर सिपाही के चचेरे भाई रवि कुमार को पकड़वा दिया।

स्वरूप नगर इंस्पेक्टर राजीव सिंह ने बताया कि पहले डॉक्टरों की ओर से तहरीर मिली है, इसके बाद सिपाही ने भी डॉक्टरों के खिलाफ तहरीर दी है। जांच की जा रही है और घटनास्थल पर मौजूद मरीज और तीमारदारों से पूछताछ की जा रही है। जिसके बाद दोषी पाये जाने वाले पक्ष के खिलाफ आगे की कार्रवाई की जाएगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper