जोक्स: आलिया ने दादी को दिया गन्ना, वजह जान हंस हंस के पागल हो जाओगे

दोस्तों आप सभी का जोक्स की दुनियां में एक बार फिर से स्वागत हैं. जैसा कि आप सभी जानते हैं जोक्स हंसने हंसाने का सबसे सस्ता और अच्छा साधन हैं. जब भी हम उदास होते हैं तो जोक्स पढ़कर अपना दिल बहला लेते हैं. ऐसा कहा जाता हैं कि आप चाहे कितने भी उदास हो या डिप्रेशन में ही क्यों ना हो जोक्स आपके चेहरे पर किसी तरह मुस्कान ले ही आते हैं. यही वजह हैं कि हम समय समय पर आपके लिए इन चुटकुलों का संग्रह लाते रहते हैं. इन चुटकुलों की एक ख़ास बात यह भी हैं कि इन्हें पढ़ने में कोई ज्यादा समय बर्बाद नहीं होता हैं. ऐसे में आप अपने काम से ब्रेक लेकर भी इन्हें पढ़ सकते हैं. सोशल मीडिया और स्मार्टफोन के चलते आप आसानी से इन चुटकुलों को दूसरों के साथ शेयर भी कर सकते हैं. इस तरह ये जोक्स ना सिर्फ आपके चेहरे पर मुस्कान लाते हैं बल्कि आपके करीबियों को भी खुश रखते हैं.

वैसे तो आपको इन्टरनेट पर कई तरह के जोक्स मिल जाएंगे लेकिन आज जो जोक्स हम आपको बताने वाले हैं वे काफी अलग और मजेदार हैं. दरअसल इन्टरनेट पर मौजूद सभी जोक्स मजेदार नहीं होते हैं. ऐसे में कई बार अच्छे जोक्स ढूँढने में आपका समय भी बर्बाद हो जाता हैं. इसलिए ये जिमेदारी हम लेते हैं और यहाँ सिर्फ वही जोक्स शेयर करते हैं जिन्हें पढ़कर आपको ज्यादा से ज्यादा हंसी आए. तो चलिए फिर बिना किसी देरी के इन मजेदार जोक्स को पढ़ लेते हैं और हंसी की दुनियां में खो जाते हैं.

Source-Google

बहू अपने ससुर से : बाबू जी इलाइची खत्म हो गयी है, आप आते हुए ले आएंगे
ससुर : बेटा इलाइची तुम्हारी सास का नाम है और हमारे घर में बड़ों का नाम नहीं लिया जाता
बहू : जी ठीक है मैं आगे से ध्यान रखूँगी…. अगली बार …..
बहू : पिता जी माँ जी खत्म हो गई है , बज़ार से लेते आना

Source-Google

पप्पू जंगल में जा रहा था तभी एक सांप ने पैर पर काट लिया।
पप्पू को गुस्सा आया और टांग आगे करके बोला, “ले काट ले जितना काटना है काट ले।”
सांप ने फिर तीन-चार बार काटा और थक कर बोला, “अबे तू इंसान है भूत?”
पप्पू, “मैं तो इंसान ही हूं लेकिन साले मेरा यहां पैर नकली है।”

खुबसूरत सेक्रेटरी गुस्से में गालियां देते हुए बॉस के केबिन से बाहर निकली..
साथियों ने पुछा, “अरे, क्या हो गया?”
सेक्रेटरी : कमीना पुछ रहा था कि शाम को फ्री हो ,साथी : फिर..?
सेक्रेटरी : जब कहा कि, हां हूं तो हरामी ने 60 पेज की टाइपिंग करने को दे दी।

Source-Google

टीचर: एक टोकरी में 10 आम थे 3 सड़ गए तो कितने आम बचे? बन्टू: 10
टीचर: अबे मूर्ख 10 कैसे बचेंगे?
बन्टू: सड़े हुए आम कहां जाएंगे, सड़ने से केले थोड़ी बन जाएंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper