’’ज्ञानरूपी दीपक से ही अज्ञानता का अंधकार दूर होता है’’

सरस्वती नमस्तुभ्यं सर्वदेवि नमों नमः।
शान्तरूपे शशिधरे सर्वयोगे नमो नमः।।

बसंत पंचमी के पावन पर्व पर विद्या, कला एवं बुद्धि प्रदायिनी माँ सरस्वती का एसकेडी एकेडमी की आईएससी बोर्ड शाखा में प्रतिवर्ष की भाँति इस वर्ष भी 16 फरवरी 2021 को उज्जवल धवला माँ शारदे की भव्य प्रतिमा की स्थापना व पूजन किया गया। माँ सरस्वती विद्या प्रदायिनी माँ विद्यारूपा देवी है, सर्वधर्म सम्भाव से पूर्ण मंत्रोच्चारण के साथ यह पर्व मनाया गया। इस अवसर पर विद्यालय प्रांगण में छात्र-छात्राओं में संस्कृतिक संस्कारों के अंकुरण हेतु पंचकुण्डीय हवन का आयोजन किया गया। गायत्री परिवार के सदस्यों द्वारा विधिवत हवन एवं पूजन कार्यक्रम को सम्पन्न किया गया।

इस अवसर पर एसकेडी ग्रुप के संस्थापक प्रबंधक एसकेडी सिंह, निदेशक मनीष सिंह, सभी शाखाओं की प्रधानाचार्या/प्रधानाचार्य, उप प्रधानाचार्या/ उप प्रधानाचार्य, शिक्षकगण, सभी शाखाओं के विद्यार्थी उनके अभिभावक व राजाजीपुरम के गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। एसकेडी ग्रुप के निदेशक मनीष सिंह ने कहा कि बसंत का आगमन पूरी प्रकृति एवं संसार के लिए जीवन की ऊर्जा लेकर आता है। उन्होने आगामी बोर्ड परीक्षा से सम्मिलित होने वाले सभी छात्र-छात्राओं को शुभकामनाएँ दी, उन्होने यह भी बताया कि माता सरस्वती की कृपा से ही करोनाकाल में भी शिक्षण कार्य हर बाधा को दूर करते हुए कुशलतापूर्वक चलता रहा।

विद्यालय प्रांगण मे सभी लोग भक्ति रस में डूबे दिखे। पूजा के पश्चात भजन कीर्तन का कार्यक्रम हुआ जिसमें गायत्री परिवार के सदस्यों व अध्यापिकाओं ने भजन प्रस्तुत किये। समारोह के अन्त में प्रसाद वितरण हुआ व अभिभावकों ने जलपान किया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper