झांसा देकर 1.56 लाख ठगे

लखनऊ: निजी विद्यालय की यूपी बोर्ड की हाईस्कूल से मान्यता कराने का झांसा देकर जालसाजों ने रिटायर सूबेदार मेजर संचालक से 1.56 लाख रुपए ऐंठ लिए। पीड़ित ने निजी एजुकेशन संस्थान में काम कर चुकी महिला से सम्पर्क कर मदद मांगी थी। इसके बाद महिला ने परिचित को माध्यमिक शिक्षा बोर्ड का अधिकारी बताकर चेक व नकद रुपये लिए। काम न होने पर पीड़ित ने इलाहाबाद माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से जानकारी की तो फजीवाड़ा सामने आ गया। पीड़ित ने गाजीपुर थाने में रिपोर्ट दर्ज करायी है।

इंस्पेक्टर बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि इन्दिरानगर के डी-ब्लॉक हरिहरनगर में रिटायर सूबेदार मेजर अजरुन सिंह (77) परिवार के साथ रहते हैं। अजरुन सिंह लार्ड बुद्धा एकेडमी के मालिक व मैनेजर हैं, जबकि बेटी किरन प्रिंसिपल है। उनका कहना है कि विद्यालय की मान्यता के लिए वर्ष 2018 में संगीता सोम से सम्पर्क किया। संगीता सोम जानकीपुरम एक्सटेंशन में रहती हैं। संगीता पूर्व में निजी एजुकेशनल संस्थान में कार्यरत थी। बातचीत में संगीता ने आश्वासन दिया कि वह उनके विद्यालय को यूपी बोर्ड से हाईस्कूल की मान्यता करा देंगी।

अजरुन सिंह ने बताया कि संगीता ने उसकी मुलाकात अभिषेक सिंह से करायी थी। अभिषेक ने खुद को माध्यमिक शिक्षा बोर्ड का अधिकारी बताया था। संगीता ने बताया था कि उनकी मदद से ही मान्यता होगी। जुलाई से लेकर अक्टूबर माह के बीच संगीता सोम ने मान्यता के नाम पर 1.56 लाख रुपये नकद व चेक हिमांशु नामदेव, अभिषेक सिंह, संजय दुबे के नाम से लिए। काफी वक्त बीतने के बाद भी काम न होने पर बुजुर्ग अजरुन सिंह ने आरोपितों पर दबाव बनाने के साथ ही इलाहाबाद माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से जानकारी की तो पता चला कि वहां उनके विद्यालय के कोई भी दस्तावेज नहीं है।

ठगी का पता चलने पर पीड़ित ने संगीता सोम से रुपये वापस मांगे। दबाव बनाने पर उसने महज दस हजार रुपये दिये लेकिन शेष रकम हड़प ली। अजरुन सिंह ने बताया कि चलने-फिरने में दिक्कत होने के चलते वे संगीता से फोन पर ही रुपये मांगते रहे। पीड़ित ने मामले की शिकायत गाजीपुर पुलिस से गुरुवार को की। इंस्पेक्टर बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि संगीता सोम, संजय दुबे, अभिषेक सिंह व हिमांशु नामदेव के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper