झारखंड में तीन बच्चों के साथ महिला ने खुद को लगाई आग, चारों की मौत

गिरिडीह. धनवार थाना क्षेत्र के परसन इलाके में मंगलवार एक महिला ने अपने तीन बच्चों के साथ खुद को आग के हवाले कर दिया। घटना में तीनों बच्चों की मौके पर मौत हो गई जबकि रेफरल अस्पताल में इलाज के दौरान गंभीर रूप से झुलसी महिला ने भी दम तोड़ दिया। घटना सुबह करीब आठ बजे की है। उधर, घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस जांच पड़ताल में जुट गई है। उधर, घटनास्थल पर पहुंचे मृतका के पिता ने बेटी के ससुराल पक्ष पर हत्या का आरोप लगाया है।

मृतका की पहचान पुररेख कला गांव निवासी 35 वर्षीय सोनिया देवी, पति- रवींद्र यादव के रूप में जबकि बच्चों की पहचान आठ वर्षीय दिलीप कुमार, पांच वर्षीय सुमन कुमार, दो वर्षीय छोटू कुमार के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि जेठ की पत्नी से दूध को लेकर कहासूनी के बाद सोनिया देवी ने वारदात को अंजाम दिया। उधर, आग की सूचना के बाद परसन ओपी प्रभारी घटनास्थल पर पहुंचे और एंबुलेंस के जरिए गंभीर रूप से झुलसी सोनिया देवी को रेफरल अस्पताल भेजा जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

बताया जा रहा है कि दो बच्चों की लाश बक्से के अंदर जबकि एक बच्चे की लाश बेड पर मिली है। ग्रामीणों ने बताया कि उन्होंने रवींद्र के घर से धूआं उठता देखा। फिर वे घर के पास गए तो देखा कि बाहर से दरवाजा में ताला लगा हुआ है। जब ताला तोड़कर कुछ लोग अंदर गए तो देखा कि सोनिया देवी झुलसी हुई है। फिर ग्रामीणों ने आग बुझाई और पुलिस को इसकी सूचना दी। इस संबंध में मृतका के पति के बड़े भाई सीताराम यादव ने पुलिस को बताया कि मेरे भाई की पत्नी ने अपने तीन बच्चों के साथ आग लगाकर जान दे दी।

वहीं परसन इलाके के खेतो गांव निवासी मृतका के पिता चंद्रिका महतो ने आरोप लगाया कि मेरी बेटी के ससुरालवालों ने आग लगाकर तीनों नाती और उसकी मां की हत्या कर दी है। उन्होंने बताया कि सोमवार शाम को दामाद के बड़े भाई सीताराम यादव ने फोन कर बताया कि आपकी बेटी झगड़ा कर रही है। आप पहुंच कर फैसला कर दीजिए या फिर दो-तीन दिन के लिए सोनिया को अपने घर ले जाइए। मृतका के पिता ने बताया कि मैं आज सुबह दस बजे के बाद आने की तैयारी में था तब तक घटना को जानकारी मुझे मिली।

उधर, परसन ओपी प्रभारी रामशंकर उपाध्याय, धनवार थाना प्रभारी रूपेश सिंह, इंस्पेक्टर विनय राम घटनास्थल मौजूद रहे। उन्होंने घटनास्थल का निरीक्षण किया। खोरीमहुवा के एसडीपीओ नवीन कुमार सिंह ने बताया कि आग से तीन बच्चों के साथ एक महिला की मौत हुई है। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। साथ ही मामले की जांच पड़ताल की जा रही है। मृतका के पिता की ओर से फिलहाल कोई लिखित शिकायत नहीं दी गई है। शिकायत मिलने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper