टीचर ने श्वेता तिवारी पर लगाया धोखाधड़ी का आरोप

मुंबई: श्वेता तिवारी फिल्मी दुनिया का बड़ा नाम हैं, फिल्मों के साथ-साथ वो कई टीवी सीरियल्स में भी अपनी एक्टिंग का दम दिखा चुकी हैं, श्वेता तिवारी अपनी खूबसूरती और दिलकश अदाओं के लिए जानी जाती हैं, लेकिन लगता है कि पिछले कुछ समय से परेशानियां श्वेता तिवारी का पीछा नहीं छोड़ रही हैं तभी तो जहां अभी कुछ दिन पहले श्वेता तिवारी को उनके पति ने मानहानि का लीगल नोटिस भेजा है तो वहीं अब दूसरी तरफ उनके एक्टिंग स्कूल के एक्स कर्मचारी राजेश पांडे ने उन पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया है और उन्हे लीगल नोटिस भेज दिया है.

श्वेता ने मुंबई में एक एक्टिंग स्कूल खोला था जिसका नाम था ‘Shweta Tiwari’s Creative School of Acting’, राजेश पांडे इस स्कूल में एक्टिंग के टीचर थे. राजेश पांडे ने कहा कि ‘मैं श्वेता तिवारी के एक्टिंग स्कूल में साल 2012 से एक्टिंग सिखाने का काम कर रहा था लेकिन उन्होंने मेरी दिसम्बर 2018 की सैलरी नहीं दी और कभी मेरे TDS का पैसा भी जमा नहीं किया, मैंने श्वेता तिवारी के स्कूल में कई साल काम किया और बदले में मुझे क्या मिला, धोखा.’

राजेश पांडे आगे कहते हैं कि ‘मैं बहुत परेशान हूं क्योंकि श्वेता तिवारी ने मेरा पैसा देना तो दूर, मेरा फोन उठाना भी बंद कर दिया, दूसरी तरफ कोरोना के चलते मेरे पास बिलकुल भी पैसे नहीं बचे हैं और मेरा मकान मालिक भी मुझे किराए के लिए तंग कर रहा है’. राजेश पांडे की सच्चाई पता लगाने के लिए हमने जब श्वेता तिवारी को फोन मिलाया तो उन्होंने फोन का जवाब नहीं दिया.

राजेश पांडे के बारे में बात करने के लिए श्वेता तिवारी के पति अभिनव कोहली तैयार हो गए और उन्होंने आजतक को बताया कि ‘ये सच है कि श्वेता तिवारी ने राजेश पांडे के 50 हजार रुपये नहीं दिए हैं, मैं उस लड़के को पर्सनली जानता भी हूं और मुझे उसके लिए बुरा भी लग रहा है, दो साल से बेचारा राजेश, श्वेता के सामने पैसों के लिए हाथ-पैर जोड़ रहा है लेकिन श्वेता तिवारी उसे उसके ही पैसे देने को तैयार नहीं है, उल्टा वो कहती है कि मेरे फेम की वजह से वो मेरे पीछे पड़ा है, अरे भाई राजेश पांडे के पास सारे प्रूफ हैं कि आपने उसके पैसे नहीं दिए हैं

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper