ट्रेन से टीटी ने दिया फौजी को धक्का, कट गए दोनों पैर

बरेली: उत्तर प्रदेश के बरेली के रेलवे जंक्शन पर डिब्रूगढ़ से नई दिल्ली जाने वाली राजधानी एक्सप्रेस से चलती ट्रेन में कुछ ऐसा हुआ जो सभी को हैरान कर गया। जी दरअसल यहाँ टीटी और फौजी के बीच विवाद हो गया और उसके बाद जो कुछ हुआ वह देखकर देखने वालों के होश उड़ गए। इस मामले में बताया जा रहा है कि विवाद ट्रेन में चढ़ने को लेकर हुआ। जी हाँ और विवाद के दौरान टीटी ने एक फौजी को धक्का दे दिया और इस दौरान फौजी ट्रैन के नीचे गिर गया और उसके दोनों पैर कट गए। उसके बाद फौजी को गंभीर हालत में आर्मी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दूसरी तरफ फौजी के पैर कटने की खबर सुनकर आसपास के लोग इकट्ठे हो गए और रेलवे स्टेशन पर जमकर हंगामा किया।

इस मामले में बताया गया कि उग्र हो रही भीड़ ने टीटी के साथ मारपीट भी की। हालाँकि टीटी भीड़ में मौका देखकर वहां से भाग निकला। दूसरी तरफ पुलिस ने टीटी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। जी हाँ और अब पुलिस ने टीटी की तलाश शुरू कर दी है। बात करें फौजी के बारे में तो फौजी की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है आर्मी अस्पताल में फौजी का इलाज चल रहा है। क्या है पूरा मामला- जी दरअसल बरेली के रेलवे जंक्शन पर डिब्रूगढ़ से नई दिल्ली जाने वाली राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन में टीटी और फौजी के बीच ट्रेन में चढ़ने को लेकर विवाद हो गया।

यहाँ चलती ट्रेन से स्टेशन पर टीटी ने फौजी को धक्का दे दिया जिससे कि फौजी ट्रेन से नीचे गिर गया और वह पटरियों के बीच में फंस गया। इस हादसे में फौजी के दोनों पैर कट गए। जी हाँ और फौजी के पैर कटने के बाद जब उसके साथियों को इस बात का पता चला तो उन्होंने जमकर हंगामा कर डाला और आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। अब इस मामले में पुलिस टीटी की तलाश कर रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper