डीजीपी ने ‘1090’ का किया औचक निरीक्षण, दो पुलिसकर्मी सस्पेंड

लखनऊ ब्यूरो। पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ओम प्रकाश सिंह ने शनिवार को ‘वीमेन पॉवर लाइन 1090 का औचक निरीक्षण किया। डीजीपी के कार्यालय पहुंचने की सूचना मिलते ही अधिकारियों और कर्मचारियों में अफरा-तफरी का माहौल रहा। यह भी बताया जा रहा है कि जिस समय डीजीपी कार्यालय पहुंचे थे, उस समय कार्यालय में नाइट ड्यूटी पर तैनात कर्मचारी ही मौजूद रहे। इस पर डीजीपी ने अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई।

डीजीपी ओपी सिंह के औचक निरीक्षण में दो पुलिसकर्मी सस्पेंड कर दिए गए। डीजीपी सिंह शनिवार को अचानक 1090 के दफ्तर और फिर सरोजनीनगर थाने पहुंचे। संतरी ड्यूटी से गायब मिलने पर सिपाही सुधीर कुमार को सस्पेंड कर दिया गया। वहीं ड्यूटी पर मौजूद सब इंस्पेक्टर रविंद्र कुमार को लापरवाही के आरोप में सस्पेंड किया गया है।

डीजीपी महिला सुरक्षा के लिए चलाये जा रहे ‘वीमेन पॉवर लाइन 1090 के कार्यालय पहुंचे। डीजीपी के पहुंचने पर सुबह की ड्यूटी में कोई भी अधिकारी व कर्मचारी नहीं आया था। रात की ड्यूटी में तैनात अफसर ही मौजूद थे। लापरवाही को लेकर डीजीपी ने अधिकारियों को जमकर फटकार लगाते हुए कहा कि कार्य और ड्यूटी में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

जिस समय डीजीपी कार्यालय में मौजूद थे, उस समय वहां पर कोई भी जिम्मेदार अधिकारी मौजूद नहीं था। कार्यालय में न तो एडीजी अंजू गुप्ता थीं और न एसपी सुजाता। इसके अलावा, सीओ बबिता सिंह भी मौके पर नहीं थी। डीजीपी करीब 20 मिनट 1090 के कार्यालय में रहे। इस दौरान कर्मचारी हलकान रहे। डीजीपी ने कर्मचारियों से समस्याओं के बारे में भी पूछा लेकिन समस्याएं बताने की किसी ने हिम्मत नहीं थी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper