डीजीपी से मिलने कार्यालय पहुंची विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की पत्नी

लखनऊ: उन्नाव दुष्कर्म मामले को लेकर भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं। इसी के चलते बुधवार को इनकी पत्नी संगीता सेंगर शैलेश सिंह शैलू के साथ राजधानी लखनऊ में पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह से मुलाकात करने डीजीपी ऑफिस पहुंची।

संगीता सेंगर ने कहा कि उनके पति को झूठे केस में फंसाया जा रहा है। डीजीपी से मिलने के बाद संगीता ने कहा कि उनके पति को झूठे केस में फंसाया जा रहा है। यह सब एक साजिश के तहत किया जा रहा है। इसकी उच्चस्तरीय जांच की जानी चाहिए। वहीं, पीड़िता ने एक बार फिर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से इंसाफ दिलाने की मांग की है। जबकि विधायक की पत्नी ने पीड़िता के आरोपों को झूठा बताते हुए उसका नार्को टेस्ट कराने की मांग की है।

इस मामले की जांच के लिए सरकार ने एसआईटी का गठन किया है। एसआईटी बुधवार शाम तक अपनी रिपोर्ट मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सौंपेगी। अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी) लखनऊ राजीव कृष्णा की अगुवाई में विशेष जांच दल (एसआईटी) मामले की जांच के लिए बुधवार को दुष्कर्म पीड़िता के घर पहुंचा। एसआईटी की टीम ने यहां कई लोगों से बातचीत की। उन्नाव में सामूहिक दुष्कर्म और पीड़िता के पिता की मौत के मामले में अब तक पांच आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं। पुलिस ने विधायक के भाई अतुल सिंह सेंगर को भी मंगलवार को गिरफ्तार किया।

आपको बता दें कि इससे पहले मंगलवार को इस मामले में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई अतुल सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उस पर पीड़िता के पिता से मारपीट का गंभीर आरोप है। इस मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने पीड़िता के पिता को ही जेल भेज दिया था।

बता दें कि सोमवार रेप पीड़िता के पिता की सोमवार को जेल में ही मौत हो गयी थी। इसके बाद पीड़िता के परिवार ने हत्या का आरोप कुलदीप सिंह सेंगर व उसके भाई अतुल पर लगाया। मामले को गंभीरता से लेकर एडीजी लखनऊ राजीव कृष्णा के आदेश पर लखनऊ पुलिस ने जांच शुरु कर दी।

विधायक कुलदीप सिंह सेंगर

मंगलवार को पुलिस ने आरोपी अतुल सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, अतुल सिंह के खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य मौजूद हैं। वहीं, पीड़ित परिवार ने सहायता राशि लेने से भी इनकार कर दिया है। उनका कहना है कि विधायक भी इस मामले में आरोपी है उनकी भी गिरफ्तारी की जाय। सीबीआई की जांच की मांग उठाई हैं।

कानून एवं व्यवस्था आनन्द कुमार ने मंगलवार को उन्नाव रेपकाण्ड व पीड़िता के पिता की जेल में मौत के मामले में प्रेसवार्ता की। उन्होंने बताया कि मामला बहुत ही पेंचीदा है, इसके लिए एडीजी लखनऊ के नेतृत्व में एसआईटी टीम का गठित की गयी है। उसकी जांच रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जायेगी। वहीं, मंगलवार को हुए पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृतक के पिता की मौत आंतो में छेद व सेफ्टीसेमिया के चलते हुई हैं। अब यह जांच का विषय है कि मौत मारपीट के चलते हुई है या अन्य कोई कारण है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper