डेटा लीक मसले पर सीनेट में पेश हुए मार्क जुकरबर्ग, सांसदों ने पूछे तल्ख सवाल

वॉशिंगटन: अमेरिकी संसद में पेश हुए फेसबुक के संस्थापक मार्क जकरबर्ग को डेटा लीक मामले में सांसदों के तल्ख सवालों से दो चार होना पड़ा। अमेरिकी सांसदों ने जकरबर्ग पर तीखे सवालों की बौछार की। एक घंटे से ज्यादा समय तक चले इस सवाल-जवाब के दौरान 42 सांसदों ने फेसबुक संस्थापक से कई सवाल पूछे।

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रूसी हस्तक्षेप से लेकर भारत और पाकिस्तान में आगामी आम चुनावों तक उनसे सफाई मांगी गई। सेनेट कॉमर्स ऐंड जूडिशरी कमिटियों के सामने पेश हुए जकरबर्ग ने फेसबुक के जरिए हुई गड़बड़ियों की जिम्मेदारी ली और चुनावों के दौरान लोगों का भरोसा बनाए रखने की बात कही। जकरबर्ग ने कहा कि अगले दिनों में भारत में होने वाले चुनावों के दौरान पूरी सतर्कता बरती जाएगी।

इस दौरान सेनेटर्स लगातार जकरबर्ग की दलीलों को चुनौती देते रहे। अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रूसी हस्तक्षेप पर जकरबर्ग ने कहा रूस में कुछ लोग ऐसे हैं जिनका काम हमारे सिस्टम को खराब करना और अन्य इंटरनेट व्यवस्था को खराब करना है। उन्होंने कहा यह हथियारों की होड़ जैसा है। वे लगातार बेहतर करने की कोशिश कर रहे हैं और हमें भी बेहतरी के लिए निवेश करने की जरूरत है। बता दें कि जकरबर्ग ने पहले माना था कि सन 2016 में हुए अमेरिकी चुनाव में गलत सूचनाओं के प्रसार को रोकने में फेसबुक असफल रहा था।

डेमोक्रैट सांसद बिल निल्सन ने जकरबर्ग से कहा अगर फेसबुक और अन्य ऑनलाइन कंपनियां लोगों की निजता को नहीं संभाल सकतीं तो यह जिम्मेदारी हमें उठानी होगी।कई सांसदों ने जकरबर्ग से पूछा कि कैसे थर्ड पार्टी कंपनियों ने फेसबुक से निजी जानकारी हासिल कीं। कॉमर्स कमिटी के चेयरमैन जॉन टूने ने पूछा मि. जकरबर्ग आपने एक ऐसी कंपनी बनाई जिसपर सभी को गर्व है, लेकिन आपने क्या किया? आपकी जिम्मेदारी बनती है और आप किसी की निजी जानकारी को सार्वजनिक कैसे कर सकते हैं।

सेनेटर लिंडसे ओ. ग्राहम ने जकरबर्ग के सहयोगी और फेसबुक के उपाध्यक्ष एंड्रयू वासवर्थ द्वारा 2016 में लिखे गए मेमो पर भी सवाल पूछे। सेनेटर रिचर्ड ब्लूमेंथल ने फेसबुक संस्थापक से पूछा आप अपना बिजनेस मॉडल कैसे चेंज करेंगे, जबतक आप अपना रास्ता नहीं बदलेंगे? जकरबर्ग ने कहा हम जांच कर रहे हैं कि कैम्ब्रिज एनालिटिका ने क्या गोपनीय जानकारी जुटाई। अब हमें पता है कि उन्होंने किसी ऐप डेवलपर से खरीद कर लाखों लोगों की जानकारी जैसे नाम, प्रोफाइल पिक्चर्स और फॉलो किए जाने वाले पेजों की जानकारी गलत तरीके से जुटाई गई।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper