तीन साल की पुत्री ने दी शहीद पिता की चिता को मुखाग्नि

उदयपुर: लेह में शहीद हुए उदयपुर के धारता गांव के एयरफोर्स के जवान मुरलीधर लोहार का शनिवार सुबह राजकीय सम्मान से अंतिम संस्कार किया गया। शहीद की तीन साल की मासूम बेटी, पिता व भाइयों ने शहीद की चिता को मुखाग्नि दी।

उदयपुर जिले के धारता गांव के मुरलीधर लोहार पुत्र जयराम लोहार लेह लद्दाख में शहीद हो गए थे। शुक्रवार को उनका पार्थिव शरीर डबोक एयरपोर्ट पर पहुंचा। वहां से परिजन पार्थिव शरीर को वल्लभनगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए। वहां शहीद के अंतिम दर्शन के लिए बड़ी संख्या में क्षेत्रवासी पहुंचे।

शनिवार सुबह शहीद का राजकीय सम्मान से अंतिम संस्कार किया गया। सैन्य अधिकारियों ने शहीद के सम्मान में सलामी दी। अंतिम संस्कार में हजारों की संख्या में लोग पहुंचे। राजस्थान के गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया, चित्तौड़गढ़ सांसद सी.पी. जोशी, विधानसभा पूर्व अध्यक्ष शांतिलाल चपलोत आदि भी शहीद को अंतिम नमन करने पहुंचे। इस दौरान धारता के प्राथमिक स्कूल का नाम शहीद मुरलीधर के नाम रखने की घोषणा की गई है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper