तेलंगाना में 40 बंदरों की लाश जूट की बोरियों में मिली

नई दिल्ली: तेलंगाना के महबूबबाद शहर के सानिगापुरम गांव में एक इलेक्ट्रिक सबस्टेशन के पीछे 40 बंदरों को जूट की बोरियों में भरा हुआ पाया गया, पुलिस को शक है कि जानवरों को जहर देकर मारा गया होगा। पुलिस के अनुसार, कुछ स्थानीय ग्रामीणों ने एक पहाड़ी पर स्थित घटनास्थल से निकलने वाली तेज बदबू के बाद सबसे पहले बंदरों के शव को देखा और तुरंत पुलिस और वन अधिकारियों को सूचित किया।

महबूबबाद (ग्रामीण) के पुलिस उपनिरीक्षक रमेश बाबू ने हिन्दुस्तान टाइम्स को बताया कि घटना पांच से छह दिन पहले हुई होगी। बाबू ने कहा, “हमने भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 429 (जानवरों को मारने और जहर देने) के तहत एक मामला दर्ज किया है। जिला वन अधिकारी (DFO) पोलोजू कृष्णमाचार्य ने कहा कि दोपहर में बंदरों के शवों का अंतिम संस्कार किया गया।

वन अधिकारियों को कुछ स्थानीय लोगों पर शक है, जो बंदरों के होने से हने वाले खतरे को बर्दाश्त नहीं कर सकते थे, वनाधिकारियों का कहना है वही लोग इन हत्याओं के पीछे हो सकते हैं। डीएफओ ने कहा कि पुलिस द्वारा पूछताछ में पता चला है कि आंध्र प्रदेश के राजामुंदरी के कुछ पशु पकड़ने वाले कुछ समय पहले महबूबबाद आए थे और उनकी भागीदारी को भी हत्याओं के पीछे खारिज नहीं किया जा सकता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper