तो क्या कुख्यात अपराधी विकास दुबे के तार जिले के बुढार से भी जुड़े हैं…

शहडोल। उत्तरप्रदेश के कुख्यात अपराधी विकास दुबे की उत्तरप्रदेश सहित कई प्रदेशों में पुलिस की लगभग 40 टीमें तलाश कर रही है लेकिन 5 दिन बीत जाने के बावजूद वह अब तक पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा है पुलिस विकास कि तलाश में लगातार उसके जान पहचान और रिश्तेदारों के यहां छापामार कार्यवाही भी कर रही। इसी कार्यवाही के दौरान विकास दुबे के एक रिश्तेदार के यहां शहड़ोल जिले के बुढ़ार उत्तरप्रदेश पुलिस के एसटीएफ की टीम पहुंची लेकिन विकास का सुराग यहाँ भी नहीं लग सका।

एसटीएफ की टीम विकास दुबे के साले के लड़के आदर्श को अपनें साथ ले गई है। उत्तर प्रदेश में बीते दो तारीख को आठ पुलिस जवानों की हत्या के बाद फरार कुख्यात आरोपी विकास दुबे को यूपी पुलिस लगातार तलाश कर रही है लेकिन पुलिस को अब तक सफलता नही मिली है विकास को तलाश करते हुये यूपी पुलिस की एसटीएफ टीम कल शहड़ोल जिले के बुढ़ार पहुंची जहां आरोपी विकास दुबे का साला ज्ञानेन्द्र प्रकाश निगम उर्फ राजू खुल्लर शहड़ोल जिले के बुढ़ार में बीते पंद्रह सालों से रह रहा है और भूसे का व्यापार करता है बीते दिन जब यूपी एसटीएफ की टीम उसके घर पहुंची तो वह घर पर नहीं था जिसके बाद पुलिस उसके बेटे आदर्श को अपनें साथ ले गई है।

ज्ञानेन्द्र उर्फ राजू खुल्लर को जब इस बात की जानकारी लगी तो वह खुद शहड़ोल जिले के एसपी के पास पहुंचा और बताया कि उसका वर्षों से विकास से कोई संबंध नहीं है ज्ञानेन्द्र नें बताया कि विकास उसे भी अपराधिक गतिविधियों में फंसाना चाहता था और उस पर भी पहले दो मामले दर्ज हो चुके हैं इतना ही नहीं वह उसके कानपुर स्थित मकान पर भी कब्जा कर लिया था। जिसे बड़ी मुश्किल से वह वापस ले सका लेकिन उसका विकास से कोई संबंध नहीं है वहीं ज्ञानेन्द्र नें कहा कि उसके बेटे को एसटीएफ लेकर गई है। हालांकि पुलिस का कहना है कि अगर यह निर्दोष हैं तो इन्हें किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं होगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper