दक्षिण भारत यात्रा के लिए आईआरसीटीसी की बुकिंग शुरू

लखनऊ ब्यूरो। भारतीय रेलवे खान-पान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) नए साल के दो जनवरी से यात्रियों को दक्षिण भारत की यात्रा कराएगा। इसके लिए शुक्रवार से बुकिंग शुरू हो गई है।

आईआरसीटीसी के मुख्य क्षेत्रीय प्रबंधक अश्विनी श्रीवास्तव ने शुक्रवार को बताया कि दक्षिण भारत की यात्रा दो जनवरी से शुरू होकर 13 जनवरी को खत्म होगी। इस यात्रा के लिए बुकिंग शुरू हो गई है। यात्रा पर रवाना होने वाले यात्रियों को प्रति व्यक्ति के हिसाब से 11,340 रुपये (पैकेज मूल्य) का भुगतान करना होगा।

इस यात्रा पर रवाना होने वाले पर्यटक आईआरसीटीसी की अधिकृत वेबसाइट एवं लखनऊ के गोमतीनगर स्थित क्षेत्रीय कार्यालय से टिकटों की बुकिंग करा सकते हैं। लखनऊ के साथ ही कई अन्य जिलों के रेलवे स्टेशनों से भी पयर्टक विशेष ट्रेन में सवार हो सकेंगे। इन स्टेशनों में लखनऊ के अलावा वाराणसी, जौनपुर, शाहजहांपुर, अकबरपुर, अयोध्या, बाराबंकी, कानपुर एवं झांसी रेलवे स्टेशन शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि आईआरसीटीसी द्वारा पैकेज मूल्य के तहत पर्यटकों को सुबह का नाश्ता दोपहर एवं रात्रि के शाकाहारी भोजन की व्यवस्था होगी। पैकेज मूल्य में सिर्फ भोजन ही नहीं पर्यटकों के धर्मशालाओं में ठहरने व स्थानीय बस यात्रा भ्रमण की सुविधा भी शामिल है।

क्षेत्रीय प्रबंधक ने बताया कि दक्षिण भारत की यात्रा पर रवाना होने वाले पर्यटकों को रामेश्वरम,मदुरई, त्रिवेन्द्रम के दर्शन कराए जाएंगे। इसके अलावा इस यात्रा में पर्यटकों को कन्याकुमारी, तिरूचिरापल्ली (रंगनाथ स्वामी) एवं रेनूगुंटा (तिरूपति बालाजी) के दर्शन करने का भी मौका मिलेगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper