दतिया में दो लड़कियां हिजाब में कॉलेज पहुंची तो मचा बवाल, कॉलेज प्रबंधन ने लगाया प्रतिबंध

दतिया: मध्यप्रदेश के दतिया स्थित पीजी कॉलेज में दो छात्राएं हिजाब पहनकर पहुंचीं तो बवाल मच गया। कॉलेज के छात्रों ने हिजाब में आईं लड़कियों के वीडियो बना लिए। साथ ही हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने कॉलेज में नारेबाजी शुरू कर दी। इसके बाद प्रबंधन हरकत में आया। साथ ही आदेश निकाल दिया कि कॉलेज कैंपस में कोई हिजाब में प्रवेश न करे।

कॉलेज प्रशासन की तरफ से उन लड़कियों को ढूंढा गया लेकिन वे नहीं मिलीं। दरअसल, पीजी कॉलेज में छात्रवृत्ति शिविर चल रहा है। सोमवार के दिन पीजी कॉलेज में दो छात्राएं हिजाब पहनकर पहुंची। छात्राओं को हिजाब में देखकर कॉलेज के छात्रों ने पहले उनका वीडियो बना लिया और इसके बाद विरोध की रणनीति भी तैयार कर ली। हिजाब की जानकारी मिलते ही हिंदू संगठन भी कॉलेज पहुंच गए।

विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल, दुर्गा वाहिनी समेत अन्य हिंदू संगठनों ने कॉलेज में पहुंचकर कॉलेज परिसर में जमकर हंगामा शुरू कर दिया। कॉलेज में हंगामा होते देख कॉलेज के प्राचार्य डॉ डीआर राहुल भी पहुंच गए। हिंदू संगठनों ने डॉक्टर डीआर राहुल से बातचीत करते हुए उन्हें वीडियो दिखाया और हिजाब पर आपत्ति जताई। हिंदू संगठनों की आपत्ति को गंभीरता से लेते हुए प्राचार्य ने तुरंत एक नोटिस जारी कर दिया और हिजाब पहनकर प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया। इसके साथ ही हिजाब पहनकर आई छात्रा को भी कॉलेज में तलाश किया गया लेकिन कोई छात्रा नहीं मिली।

गौरतलब है कि पिछले दिनों एमपी सरकार ने भी प्रदेश में यूनिफॉर्म कोड स्कूलों में लाने की बात कही थी। मगर विवाद बढ़ने के बाद एमपी सरकार इससे पीछे हट गई थी। इसके बाद भोपाल में मुस्लिम लड़कियों ने हिजाब के समर्थन में प्रदर्शन भी किया था। सतना के एक कॉलेज में भी दो दिन पहले हिजाब को लेकर एक विवाद सामने आया था। हालांकि कॉलेज प्रबंधन ने इसे समय रहते सुलझा लिया था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper