दलित युवक की हत्या के बाद मेरठ से दहशत का माहौल, पलायन

मेरठ: मेरठ के शोभापुर में एक दलित युवक की हत्या के बाद इलाके में भय का वातावरण व्याप्त हो गया है। भयभीत दलितों ने इलाके से पलायन शुरू कर दिया है। भय का आलम यह है कि बाहर रहने वाले दलितों ने गांव आना बंद कर दिया है। इस बीच पुलिस मेरठ के शहर और ग्रामीण इलाकों में फ्लैग मार्च कर रही है।

दलित संगठनों के दो अप्रैल के भारत बंद के दौरान उत्तर प्रदेश के मेरठ में भी भारी हिंसा हुई थी। इस दौरान पुलिस ने अनेक लोगों पर कार्रवाई भी की थी। तीन अप्रैल को मेरठ के थाना कंकरखेड़ा क्षेत्र में पड़ने शोभापुर गांव में बीएसपी से जुड़े एक दलित युवक गोपी की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी। आरोप गांव के ही गुर्जर समुदाय के कुछ लोगों पर लगा है। दलित युवक की हत्या के बाद से गांव में दहशत का माहौल है। पुलिस प्रशासन ने हालकि, दलितों के गांव से पलायन की बात से इनकार किया है।

पुलिस का कहना है कि भय की वजह से लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकल रहे, लेकिन इसे पलायन नहीं कहा जा सकता है। पुलिस मेरठ के शहरी और ग्रामीण इलाकों में लगातार फ्लैग मार्च कर रही है। इसके साथ ही मेरठ पुलिस सभी वर्गों के साथ बैठकें भी कर रही है, ताकि जातदीय वैमनस्य को कम किया जा सके।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper