दावोस में पीएम मोदी के साथ गए नीरव मोदी देश से फरार

अखिलेश अखिल

लखनऊ ट्रिब्यून दिल्ली ब्यूरो: पंजाब नेशनल बैंक को साढ़े 11 हजार करोड़ का चपत लगाने वाला ज्वेलरी व्यापारी नीरव मोदी देश से फरार हो गया है। खबर कुछ इसी तरह की आ रही है। यह वही नीरव मोदी है जो अभी कुछ दिनों पहले ही दावोस बैठक में हिस्सा लेने के लिए पीएम मोदी के साथ वहाँ मौजूद था। नीरव मोदी ने पीएम मोदी की आँखों में भी धूल झोंका ,सरकार की की उम्मीदों पर पानी फेरा और सरकार को बदनाम भी किया।

हीरा व्यापारी नीरव मोदी जालसाजी का ऐसा खेल किया कि पीएनबी धरासायी हो गयी। देश को लूटकर मोदी फरार हो गया। जिस तरह से नीरव मोदी ने इस फर्जीवाड़े को अंजाम दिया है और जितनी आसानी के साथ समय रहते वो देश छोड़कर चले गए उससे अंदाज़ा लगाया सकता है कि उनकी पहुँच व्यवस्था में बैठे किन-किन लोगों तक है।

नीरव मोदी पीएनबी द्वारा एफआईआर दर्ज कराने से पहले ही देश छोड़कर भाग गए। लगता है उसे इस बात का पता चल चुका था कि ये मामला अब छुपने वाला नहीं है। शायद उन्हें पीएनबी द्वारा एफआईआर दर्ज कराने की भी जानकारी थी। नीरव मोदी गहनों की कंपनियां-गीताजंलि, नक्षत्र और गिनी के मालिक हैं। बता दें कि 48 वर्षीय नीरव मोदी बेल्जियम के शहर ऐंटवर्प में हीरे का ही कारोबार करनेवाले परिवार से आते हैं। नीरव मोदी देश के सबसे बड़े उद्योगपति मुकेश अम्बानी के रिश्तेदार हैं।

ललित मोदी भी देश छोड़कर भाग गया था। उसे किसने भगाया यह आज भी जांच का विषय है। देश के चर्चित व्यापारी और संसद रहे विजय माल्या भी देश छोड़कर भाग गया और किसी की कुछ भी चल पाया। ये सारे खेल इसी सरकार के भीतर हुए हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper