दिल्ली के सबसे अमीर उम्मीदवार हैं गौतम गंभीर!

नई दिल्ली: दिल वालों की दिल्ली में नामांकन प्रक्रिया खत्म होने के साथ जीत-हार तय करने के लिए बुधवार से लगभग सभी उम्मीदवार चुनाव प्रचार के लिए मैदान में होंगे, लेकिन पूर्वी दिल्ली से भाजपा उम्मीदवार क्रिकेटर गौतम गंभीर नामांकन के बाद ही चर्चाओं में आ गए हैं। 37 वर्षीय गौतम गंभीर ने संपत्ति के मामले में आप और कांग्रेस सहित अपनी ही पार्टी के उम्मीदवारों को पीछे छोड़ दिया है। दिल्ली में अबकी बार सबसे अमीर उम्मीदवार गौतम गंभीर हैं, जिन्होंने नामांकन के दौरान कुल संपत्ति 1.37 अरब रुपये घोषित की है। उन्होंने अपनी अचल संपत्ति 21 करोड़ और चल संपत्ति के रुप में 1 अरब 16 करोड़ रुपये से ज्यादा का शपथ पत्र दिया है।

जबकि उनकी पत्नी नताशा गंभीर के नाम 1 करोड़ 15 लाख से ज्यादा चल और पिता दीपक गंभीर के नाम 7.98 करोड़ रुपये की संपत्ति है। दिल्ली की सातों सीटों पर आप, कांग्रेस और भाजपा के उम्मीदवारों में ये संपत्ति सबसे ज्यादा है। क्रिकेटर गौतम गंभीर प्रॉपर्टी में निवेश करने वालों से धोखाधड़ी करने के आरोपी भी हैं। उनके खिलाफ साकेत कोर्ट में एक मुकदमा भी चल रहा है। आम आदमी पार्टी के उम्मीदवारों की बात करें तो सात में से सबसे अमीर पंकज गुप्ता हैं। पंकज गुप्ता ने चांदनी चौक सीट से नामांकन दाखिल किया है। उनके पास 10.45 करोड़ रुपये की संपत्ति है। जबकि उनकी पत्नी के नाम 9 करोड़ 97 लाख रुपये की संपत्ति है।

वहीं कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवारों में सबसे अमीर महाबल मिश्रा हैं। पश्चिम दिल्ली सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार महाबल मिश्रा ने नामांकन पत्र के साथ दिए संपत्ति के ब्यौरे में 18.26 करोड़ रुपये की संपत्ति घोषित की है। जबकि उनकी पत्नी के नाम 26.74 करोड़ रुपये की संपत्ति है। महाबल मिश्रा ने करीब 3.54 करोड़ रुपये चल और 14.72 करोड़ रुपये बतौर अचल संपत्ति के रुप में बताए हैं। उनकी पत्नी के पास 5.74 करोड़ चल और 21 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति है।

– 5 साल में ढाई करोड़ बढ़ी रमेश बिधूड़ी की संपत्ति

दक्षिण दिल्ली से भाजपा उम्मीदवार रमेश बिधूड़ी वर्तमान में इसी सीट से सांसद भी हैं। वर्ष 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने अपनी संपत्ति 10,67,03,204 रुपये घोषित की थी। जबकि इस बार के नामांकन में रमेश बिधूड़ी ने 13.14 करोड़ रुपये बताई है। उनकी संपत्ति में करीब ढ़ाई करोड़ का इजाफा देखने को मिला है। 2014 में उन पर चार केस लंबित थे, जबकि फिलहाल उनके खिलाफ 2 मामले कोर्ट में विचाराधीन हैं। 2014 में उन्होंने अपनी पत्नी और बच्चों को मिलाकर चल संपत्ति 21,89,852 और पत्नी की अचल संपत्ति 3.86 करोड़ रुपये घोषित की थी। 2019 में पत्नी की अचल संपत्ति 4.57 करोड़ रुपये हुई है।

जबकि पत्नी और बच्चों की चल संपत्ति में बढ़ोत्तरी के साथ 28,74,464 रुपये है। दिलचस्प है कि साल 2008 में तुगलकाबाद विधायक सीट पर जब उन्होंने चुनाव लड़ा तो उस दौरान उन्होंने अपनी कुल संपत्ति करीब 1 करोड़ 42 लाख रुपये घोषित की थी, यानि बीते नौ वर्ष में उनकी संपत्ति में करीब 12 गुना बढ़ोत्तरी हुई है। उस दौरान भी उनके खिलाफ एक केस कोर्ट में विचाराधीन था। इसके बाद 2009 लोकसभा चुनाव में करीब 3 करोड़, 2013 विधानसभा में 15.87 करोड़ रुपये की संपत्ति का ब्यौरा दिया था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper