दिल्ली : पुलिस हिरासत से भागकर मरने वाले का अफवाहों से वास्ता नहीं, दरोगा सहित 4 सस्पेंड

नई दिल्ली: पुलिस हिरासत से फरार होने के बाद छत से संदिग्ध हालात में गिरकर एक युवक की मौत हो गई। मरने वाले युवक का नाम अंशुमान था। घटना मध्य दिल्ली जिले के रंजीत नगर थाना इलाके की है। पुलिस ने अंशुमान को पड़ोसी के साथ झगड़ा करने के आरोप में पकड़ा था। पुलिस जब आरोपी को हथियार बरामदगी के लिए लेकर गई तो वह फरार हो गया। पुलिस के चंगुल से छूटते ही अंशुमान पास के मकान की छत पर जा चढ़ा। छत पर पहुंचते ही उसने छलांग लगा दी। मध्य जिले के डीसीपी संजय भाटिया ने शुक्रवार शाम घटना की पुष्टि की।

उन्होंने कहा, “अंशुमान की मौत की न्यायिक जांच कराई जा रही है। पुलिस अपने स्तर से भी जांच कर रही है। मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में एक सब-इंस्पेक्टर और तीन सिपाहियों सहित चार पुलिसकर्मी सस्पेंड कर दिए गए हैं।” डीसीपी संजय भाटिया के मुताबिक, “पकड़े गए युवक का रविवार को रात के वक्त दिल्ली में फैली हिंसा की अफवाहों से कोई लेना-देना नहीं था। अंशुमान को पड़ोसी के साथ झगड़ा करने के आरोप में तीन और चार मार्च की रात को पकड़ा गया था। चार मार्च को दिन के वक्त आरोपी को उसकी निशानदेही पर असलहा बरामद कराने को लेकर पुलिस टीम गई थी। उसी वक्त वो पुलिस हिरासत से फरार होकर एक छत से संदिग्ध हालातों में कूद गया।”

मध्य जिला पुलिस उपायुक्त ने कहा, “हमारी प्राथमिक जांच में चार पुलिसकर्मियों की लापरवाही पाई गई। चारों को सस्पेंड कर दिया गया है। घायल को इलाज के लिए निजी अस्पताल में ले जाया गया था। चिकित्सकों के काफी प्रयासों के बाद भी उसकी जिंदगी नहीं बचाई जा सकी।” एक सवाल के जबाब में डीसीपी ने बताया, “नहीं यह आरोप बे-सिर-पैर का है कि पुलिस ने रविवार की रात दिल्ली में हिंसा फैलाने की अफवाहें फैलाने वालों के साथ अंशुमान को पकड़ा था।”

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper