दिल्ली में कैसा होगा लॉकडाउन 4, चलेगी मेट्रो या करना होगा और इंतजार

नई दिल्ली: दिल्ली (Delhi) सरकार को जो 5 लाख सुझाव जनता की तरफ से मिले थे उसके आधार पर केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेज दिया गया है. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताय कि लॉकडाउन के बारे में पीएम मोदी ने सुझाव मांगे थे. दिल्ली सरकार ने प्रपोजल बनाकर भेज दिया है. उन्होंने कहा कि ज्यादातर लोगों ने हमें सुझाव दिया है कि मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग को मेंटेन रखा जाए.

इसके अलावा कुछ लोगों ने कम संख्या में बस चलावाने की भी रिक्वेस्ट की है. स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि लोगों ने सुझाव दिया है कि मॉल 1/3RD खोल दिए जाएं. उन्होंने कहा कि हम सभी को लगता था कि गर्मी आएगी तो कोरोना चला जाएगा लेकिन ऐसा नहीं है. लैटिन अमेरिका में काफी गर्मी पड़ रही है लेकिन कोरोना नहीं गया. ऐसे में हमें कोरोना के साथ जीना पड़ेगा. हमें दोनों चीजों को बैलेंस करने की जरूरत है.

लॉकडाउन का पालन करने में दिल्ली पीछे
लेकिन सवाल ये उठता है कि दिल्ली में लॉकडाउन में ही सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ रही हैं तो लॉकडाउन खुलने के बाद क्या होगा. कहीं लोग शराब के लिए दुकान के आगे भीड़ लगाए खड़े नजर आते हैं तो कहीं भीड़ लगाकर राशन का इंतजार कर रहे होते हैं. ऐसे में कोरोना के खिलाफ जंग में जीत कैसे संभव है?

क्या कल से मेट्रो चलेगी?
यात्री ट्रेनों की शुरुआत के बाद अब दिल्ली मेट्रो भी ने भी अपनी सेवाएं शुरू करने के संकेत दिए हैं. लॉकडाउन में मेट्रो की सेवा 22 मार्च से बंद पड़ी है लेकिन लॉकडाउन-4 में लोगों को रियायतें मिलीं तो मेट्रो का परिचालन भी इसमें शामिल हो सकता है क्योंकि, मेट्रो के बिना दिल्ली में आवागमन आसान नहीं होगा.

मेट्रो चलाने की तैयारियां शुरू
दिल्ली मेट्रो के Executive Director अनुज दयाल का कहना है कि दिल्ली मेट्रो कब चलेगी अभी इस तारीख का ऐलान नहीं हुआ है. लोगों को सही समय पर इसकी सूचना दी जाएगी. कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए साफ सफाई और रख रखाव पर विस्तार से काम किया जा रहा है. खासतौर पर सिग्नल, बिजली सप्लाई, मेट्रो ट्रैक की गहनता से जांच की जाएगी, ताकि मेट्रो पूरी जिम्मेदारी और सुरक्षा से यात्रियों को उनकी मंजिल तक पहुंचा सके.

फूड स्टॉल नहीं खुलेंगे
उन्होंने कहा कि पहले की तरह किसी भी मेट्रो स्टेशन पर मौजूद फूड स्टॉल नहीं खुलेंगे. यात्रियों को सोशल डिस्टेंस मेंटेन करना होगा जिसके लिए मेट्रो में पहले की अपेक्षा 50 फीसदी कम यात्री यात्रा कर सकेंगे.

आरोग्य सेतु ऐप अनिवार्य
यात्रियों के मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप अनिवार्य होगा. सुरक्षा कर्मचारियों को सबसे पहले अपने मोबाइल पर आरोग्य सेतु ऐप दिखाना पड़ सकता है. अगर किसी व्यक्ति को फ्लू जैसी कोई समस्या होगी तो यात्रा करने की इजाजत नहीं होगी. यात्रियों को मास्क पहनना अनिवार्य होगा.

आपको बता दें कि आर्थिक हालात संभालने के लिए लॉकडाउन को शर्तों के साथ खोलने की तैयारी तो हो रही है. लेकिन सवारी अपने सामान की खुद जिम्मेदार है की तर्ज पर दिल्लीवालों के लिए संदेश ये है की आप अपनी जान के खुद जिम्मेदार हैं.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper