दिल्ली में घना कोहरा, पालम में दृश्यता घटकर 50 मीटर हुई

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार को घने कोहरे के कारण पालम में दृश्यता 50 मीटर तक कम हो गई। दिल्ली में न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 17 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, पालम में सुबह 4.30 बजे से 9.30 बजे तक दृश्यता 50 मीटर तक कम हो गई, जबकि सफदरजंग में सुबह 7 बजे से 9.30 बजे तक दृश्यता 50 से 100 मीटर के बीच दर्ज की गई।

आईएमडी के पूर्वानुमान के अनुसार, इस पूरे सप्ताह, राष्ट्रीय राजधानी में सुबह धुंध बनी रहेगी और अधिकतम और न्यूनतम तापमान 16 और 6 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा। सापेक्षिक आद्र्रता सुबह 8.30 बजे तक 97 फीसदी रिकॉर्ड की गई। इस बीच, सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) के अनुमानों के अनुसार, दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) आज सुबह ‘बहुत खराब’ श्रेणी में पहुंच गया।

पीएम 2.5 और पीएम 10 दोनों प्रदूषकों का स्तर क्रमश: ‘बहुत खराब’ और ‘खराब’ श्रेणियों में दर्ज किया गया। वायु गुणवत्ता और मौसम बुलेटिन के अनुसार, “दिल्ली-एनसीआर में हवा की गुणवत्ता और भी खराब होने की संभावना है, जो 15 जनवरी को बहुत खराब श्रेणी के ऊपरी छोर तक पहुंच जाएगी। 16 जनवरी को भी हवा की गुणवत्ता बहुत खराब श्रेणी में रहने की संभावना है, लेकिन 18 जनवरी से इसमें सुधार होने की संभावना है।”

18 जनवरी तक खराब वेंटिलेशन की स्थिति के साथ हवाएं अपेक्षाकृत धीमी रहने की संभावना है।

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper