दिल्ली में देवर ने की भाभी व रिश्तेदार की हत्या

नई दिल्ली: पहाड़गंज इलाके में एक देवर ने अपनी भाभी और उससे मिलने आए एक रिश्तेदार की फावड़े तथा चाकू से वार कर हत्या कर दी। मृतकों की शिनाख्त कौशल्या देवी (55) व पुरु षोतम (30) के तौर पर की गई। घटना में मृत महिला के बेटे पर भी सोते वक्त जानलेवा हमला किया गया। इस दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने के बाद हमलावर आरोपी मौके से भाग गया लेकिन बाद में पुलिस ने उसे धर दबोचा। आरोपी की पहचान राजकुमार उर्फ राजू के तौर पर की गई। पूछताछ में पता चला कि आरोपी को महिला के भतीजे ने थप्पड़ मार दिए थे, इस वजह से खुद की बेइज्जती उसे बर्दाश्त नहीं हुई। वह भाभी के चरित्र पर भी शक करता था ।

इस वजह से उसने दोनो की जान ले ली। आरोपी नशे के आदी है और उस पर पहले से कई आपराधिक मामले दर्ज है। फिलहाल पुलिस ने हत्या समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर जांच प्रारंभ कर दी है। पहाड़गंज के कसेरुवालन के एक घर की पहली मंजिल पर कौशल्या देवी (55) रहती थी। उसके पति ओम प्रकाश की कुछ माह पहले मौत हो चुकी है जबकि दो दिन पहले ही उसके भाई का बेटा पुरु षोतम (30) हापुड़ से मिलने आया था। हत्यारोपी राजकुमार भी इसी फ्लोर पर रहता है और उसका बुधवार को पुरु षोतम से किसी बात को लेकर झड़प हुई थी। इस दौरान पुरु षोतम ने राजकुमार को थप्पड़ मार दिए थे। उस समय घरवालों के बीच बचाव करने पर राजकुमार तो किसी तरह शांत हो गया लेकिन उसने बेइज्जती का बदला लेने की साजिश रच डाली। वह अपनी भाभी को भी पसंद नहीं करता था।

उसे शक था कि उसकी भाभी के किसी से संबंध है इस वजह से वह अक्सर घर से बाहर रहती है। देर रात करीब दो बजे जब कौशल्या और उसका भतीजा पुरु षोतम पहली मंजिल पर सो रहे थे। उस दौरान मौका देख राजकुमार ने सबसे पहले पुरु षोतम पर फावड़े से दो वार किये, इसके बाद उसने भाभी पर भी फावड़े और सब्जी काटने वाले चाकू से ताबड़तोड़ वार कर दिए। इस दौरान कौशल्या ने एक कमरे के अंदर सो रही अपनी सास का दरवाजा खटखटा उसे जगा दिया। पुलिस ने दावा किया कि बेटे के हाथ में फावड़ा व चाकू देख 96 साल की बुजुर्ग महिला ने बहू को बचाने के लिए उस पर लेट गई। इसके बाद राजकुमार सो रहे कौशल्या के बेटे रोहित (25) पर हमला कर चलता बना। पुलिस ने बताया कि आरोपी ने कहा है कि वह अपने भतीजे पर हमला नहीं करना चाहता था लेकिन गुस्से में आकर उसने ऐसा किया।

घर के नीचे भूतल पर रहने वाले बुजुर्ग महिला के बेटे ताराचंद ने शोर शराबा सुनकर मामले की जानकारी पुलिस को दी। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस कौशल्या व पुरु षोतम को उपचार के लिए ले गई। जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। हालांकि रोहित को अभी उपचार के लिए भर्ती रखा गया है। मामले की जांच के दौरान पहाड़गंज एसीपी संजीव गुप्ता को ताराचंद ने बताया यह हमला उसी के भाई राजकुमार उर्फ राजू ने किया है। आरोपी का नाम पुलिस को पता चलते ही एसएचओ आईके झा ने उसे देर रात इलाके से पकड़ लिया। उसके कब्जे से वारदात में इस्तेमाल चाकू और फावड़ा भी पुलिस ने जब्त कर लिया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper