दिल्ली लुटियंस जोन की स्ट्रीट लाइटों के खम्बे खुद बताएंगे उनमें क्या है खराबी

नई दिल्ली: देश की राजधानी के लुटियंस जोन की स्ट्रीट लाइट्स अब खुद बताएंगी कि उनमें क्या खराबी है? इसके अलावा एनर्जी सेविंग के लिए रोशनी के हिसाब से खुद ही ऑन-ऑफ होंगी। एनडीएमसी अपने एरिया के सभी लाइट्स में एक ऐसा यंत्र लगाने जा रहा है जो यह काम करेगा। इस तरह के एक यंत्र की कीमत 40,000 रुपये है। पहले फेज में 6,000 स्ट्रीट लाइट्स में इन्हें लगाया जाएगा। दूसरे और तीसरे फेज में बाकी 12,000 स्ट्रीट लाइट्स में भी ऐसे ही यंत्र लगाने की योजना है। यानी कुल 72 करोड़ रुपये का भारी भरकम खर्च इस काम में आएगा।

हालांकि एनडीएमसी का दावा है कि सभी स्ट्रीट लाइट्स में ये यंत्र लगने के बाद हर साल करीब 3 करोड़ रुपये की बिजली की बचत होगी। एनडीएमसी के एक सीनियर अफसर के अनुसार, लुटियंस जोन में सड़कों पर करीब 18,000 स्ट्रीट लाइट्स हैं। इन लाइटों के जलने पर हर महीने करीब 4।5 मेगावाट बिजली खर्च होती है। इसके अलावा इनके मेंटिनेंस पर अलग से पैसे खर्च होते हैं। एक बार अगर किसी स्ट्रीट लाइट में खराबी आ जाए, तो कई दिनों बात उसकी सूचना मिलती है। तब तक उस पॉइंट पर अंधेरा ही रहता है। कई बार अंधेरे के चलते रोड पर हादसे भी हो जाते हैं।

इन स्ट्रीट लाइट्स के फॉल्ट को पकड़ने के लिए और उसे तुरंत ठीक करने के लिए एनडीएमसी पोल पर कम्युनिकेशन नोड नाम का यंत्र लगा रही है। किसी स्ट्रीट लाइट में फॉल्ट होते ही, तुरंत इसकी जानकारी इंजीनियरों को मिल जाएगी। यंत्र न केवल फॉल्ट के बारे में कंट्रोल रूम में सूचना देगा, बल्कि यह भी बता सकता है कि स्ट्रीट लाइट में खराबी क्या है। इससे फायदा यह होगा कि लाइन मैन उसी खराबी के अनुसार यंत्र लेकर मौके पर पहुंचेगा और तुरंत फॉल्ट ठीक भी हो जाएगा। अफसरों का कहना है कि स्ट्रीट लाइट्स में लगे कम्युनिकेशन नोड से बिजली की बचत भी होगी।

अभी मैनुअल स्ट्रीट लाइट्स को ऑन-ऑफ किया जाता है। जिससे बिजली की खपत अधिक होती है। लेकिन कम्युनिकेशन यंत्र लगने के बाद स्ट्रीट लाइट्स अंधेरा होने पर अपने आप ही ऑन हो जाएंगी और सुबह बंद हो जाएंगी। अभी 18,000 स्ट्रीट लाइटों के लिए 4.5 मेगावाट बिजली हर महीने में खर्च होती है। लेकिन, ये यंत्र लगने के बाद 2.5 मेगावाट बिजली का ही खर्च होगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper