दुनिया में कोरोना: 2.70 लाख की मौत; रूस में 3 दिन में करीब 30000 केस, फ्रांस-जर्मनी को पीछे छोड़ा

नई दिल्ली. कोरोना वायरस से दुनिया में अब तक 39 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं, 2.70 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। अमेरिका में अब तक संक्रमण के सबसे ज्यादा केस सामने आए हैं। यहां 76938 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। वहीं, पिछले 1 हफ्ते में रूस में तेजी से मामले बढ़े हैं। यहां पिछले 3 दिन में कोरोना के 30 हजार मामले मिले हैं। केसों के मामले में रूस अब फ्रांस और जर्मनी को पीछे छोड़कर 5वें नंबर पर पहुंच गया है। वहीं, मौतों के मामले में अमेरिका के बाद स्पेन और इटली हैं। लगातार केस बढ़ने के बावजूद पाकिस्तान शनिवार से लॉकडाउन में ढिलाई करने जा रहा है। आईए जानते हैं किस देश में कोरोना की क्या है स्थिति…

<p><strong>ब्रिटेन: </strong>अमेरिका के बाद ब्रिटेन मौत के मामले में दूसरे नंबर पर पहुंच गया है। यहां संक्रमण के 206715 केस सामने आए हैं। अब तक 30 हजार 615 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां पिछले 24 घंटे में 539 लोगों की मौत हुई, जबकि 5600 से ज्यादा नए केस सामने आए।&nbsp;</p>

ब्रिटेन: अमेरिका के बाद ब्रिटेन मौत के मामले में दूसरे नंबर पर पहुंच गया है। यहां संक्रमण के 206715 केस सामने आए हैं। अब तक 30 हजार 615 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां पिछले 24 घंटे में 539 लोगों की मौत हुई, जबकि 5600 से ज्यादा नए केस सामने आए।

<p><strong>इटली: </strong>यूरोप में सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में इटली भी शामिल है। यहां 29 हजार 958 लोगों की मौत हो चुकी है। इटली में 2.15 लाख संक्रमण के केस सामने आए हैं। हालांकि, इटली में मौत और संक्रमित केसों की संख्या में कमी आई है। यहां 96 हजार से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। &nbsp;</p>

इटली: यूरोप में सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में इटली भी शामिल है। यहां 29 हजार 958 लोगों की मौत हो चुकी है। इटली में 2.15 लाख संक्रमण के केस सामने आए हैं। हालांकि, इटली में मौत और संक्रमित केसों की संख्या में कमी आई है। यहां 96 हजार से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं।

<p><strong>स्पेन: </strong>अमेरिका और इटली के बाद स्पेन सबसे ज्यादा संक्रमित देशों की लिस्ट में दूसरे नंबर पर है। यहां अब तक 26070 लोगों की मौत हुई है। स्पेन में 2.56 लाख लोग संक्रमित पाए गए हैं। हालांकि, यहां 1.63 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं।</p>

स्पेन: अमेरिका और इटली के बाद स्पेन सबसे ज्यादा संक्रमित देशों की लिस्ट में दूसरे नंबर पर है। यहां अब तक 26070 लोगों की मौत हुई है। स्पेन में 2.56 लाख लोग संक्रमित पाए गए हैं। हालांकि, यहां 1.63 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं।

<p><strong>रूस: </strong>रूस में कोरोना के संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। यहां पिछले 3 दिन में करीब 30 हजार मामले सामने आए हैं। संक्रमण के मामले में रूस फ्रांस और जर्मनी से आगे निकल गया है। यहां अब तक संक्रमण के 1.77 मामले सामने आए हैं। यहां अब तक 1625 लोगों की मौत हो चुकी है।&nbsp;</p>

रूस: रूस में कोरोना के संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। यहां पिछले 3 दिन में करीब 30 हजार मामले सामने आए हैं। संक्रमण के मामले में रूस फ्रांस और जर्मनी से आगे निकल गया है। यहां अब तक संक्रमण के 1.77 मामले सामने आए हैं। यहां अब तक 1625 लोगों की मौत हो चुकी है।

<p><strong>फ्रांस</strong>: उधर, फ्रांस में संक्रमण और मौतों के आंकड़े बढ़े हैं। यहां अब तक 25987 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, 1 लाख 74 हजार से ज्यादा संक्रमित हैं। फ्रांस में गुरुवार को 178 लोगों की मौत हुई।&nbsp;</p>

फ्रांस: उधर, फ्रांस में संक्रमण और मौतों के आंकड़े बढ़े हैं। यहां अब तक 25987 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, 1 लाख 74 हजार से ज्यादा संक्रमित हैं। फ्रांस में गुरुवार को 178 लोगों की मौत हुई।

<p><strong>जर्मनी: </strong>जर्मनी में भी कोरोना के संक्रमण के मामले और मौत के आंकडे़ बढ़ रहे हैं। अब तक 7392 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, 1 लाख 69 हजार केस सामने आए हैं।</p>

जर्मनी: जर्मनी में भी कोरोना के संक्रमण के मामले और मौत के आंकडे़ बढ़ रहे हैं। अब तक 7392 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, 1 लाख 69 हजार केस सामने आए हैं।

<p><strong>चीन : </strong>चीन में कोरोना से स्थिति अब काबू में है। यहां अब तक 82 हजार से ज्यादा केस सामने आए हैं। वहीं, 4633 लोगों की मौत हुई है। चीन में स्थिति अब सामान्य है। यहां मई में अब तक किसी की मौत नहीं हुई।&nbsp;</p>

चीन : चीन में कोरोना से स्थिति अब काबू में है। यहां अब तक 82 हजार से ज्यादा केस सामने आए हैं। वहीं, 4633 लोगों की मौत हुई है। चीन में स्थिति अब सामान्य है। यहां मई में अब तक किसी की मौत नहीं हुई।

<p><strong>कनाडा: </strong>कनाडा में भी संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। अब तक 64922 लोग संक्रमित मिले हैं। वहीं, 4408 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां हर रोज करीब 1400-1500 मामले सामने आ रहे हैं। पिछले 24 घंटे में यहां 176 लोगों की मौत हुई है।<br /> &nbsp;</p>

कनाडा: कनाडा में भी संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। अब तक 64922 लोग संक्रमित मिले हैं। वहीं, 4408 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां हर रोज करीब 1400-1500 मामले सामने आ रहे हैं। पिछले 24 घंटे में यहां 176 लोगों की मौत हुई है।

<p>ब्राजील: ब्राजील में कोरोना के अब तक 1.35 लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं। यहां अब तक 9190 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां पिछले 24 घंटे में 9000 केस सामने आए हैं। वहीं, 600 लोगों की मौत हुई है।&nbsp;</p>

ब्राजील: ब्राजील में कोरोना के अब तक 1.35 लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं। यहां अब तक 9190 लोगों की मौत हो चुकी है। यहां पिछले 24 घंटे में 9000 केस सामने आए हैं। वहीं, 600 लोगों की मौत हुई है।

<p><strong>पाकिस्तान: </strong>पाकिस्तान में संक्रमण के 25 हजार से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। वहीं, 594 लोगों की मौत हो चुकी है। लगातार बढ़ रहे मामलों के बावजूद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार से लॉकडाउन हटाने का फैसला किया है। इमरान खान ने कहा, हमें पता है कि हम उस वक्त लॉकडाउन हटाने का फैसला कर रहे हैं, जब हमारे यहां केस बढ़ रहे हैं। लेकिन पाकिस्तान में उतने केस नहीं आए, जितने की हमें उम्मीद थी। उन्होंने कहा, अगर कोरोना वायरस से स्थिति कभी भी बुरी होती है तो दोबारा प्रतिबंध लगा दिए जाएंगे।&nbsp;</p>

पाकिस्तान: पाकिस्तान में संक्रमण के 25 हजार से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। वहीं, 594 लोगों की मौत हो चुकी है। लगातार बढ़ रहे मामलों के बावजूद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार से लॉकडाउन हटाने का फैसला किया है। इमरान खान ने कहा, हमें पता है कि हम उस वक्त लॉकडाउन हटाने का फैसला कर रहे हैं, जब हमारे यहां केस बढ़ रहे हैं। लेकिन पाकिस्तान में उतने केस नहीं आए, जितने की हमें उम्मीद थी। उन्होंने कहा, अगर कोरोना वायरस से स्थिति कभी भी बुरी होती है तो दोबारा प्रतिबंध लगा दिए जाएंगे।

<p>इमरान ने कहा, लॉकडाउन हटाने का फैसला इसलिए लिया गया है, क्योंकि लोग परेशान हो रहे हैं। मजदूर से लेकर दैनिक कर्मचारी, रिक्शा चालक, मध्यम वर्ग तक सभी लॉकडाउन में आर्थिक तौर पर परेशान हो रहे हैं। &nbsp; &nbsp;</p>

इमरान ने कहा, लॉकडाउन हटाने का फैसला इसलिए लिया गया है, क्योंकि लोग परेशान हो रहे हैं। मजदूर से लेकर दैनिक कर्मचारी, रिक्शा चालक, मध्यम वर्ग तक सभी लॉकडाउन में आर्थिक तौर पर परेशान हो रहे हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper